VIDEO: देखिए क्यों मिर्जापुर में रैली के बाद पीएम मोदी और सीएम योगी का पोस्टर फाड़ने लगे लोग

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्ववर्ती सरकारों पर जनता की उपेक्षा करने और समय पर विकास परियोजनाओं को पूरा न करने का आरोप लगाते हुए रविवार (15 जुलाई) को कहा कि किसानों के लिए घड़ियाली आंसू बहाने वाले, अपने कार्यकाल में सिंचाई परियोजनाओं को अधूरी छोड़ने का कारण बताएं। मिर्जापुर में प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को 40 साल पुरानी महत्वाकांक्षी बाणसागर परियोजना का लोकार्पण करने के साथ ही कुछ अन्य परियोजनाओं का भी शिलान्यास किया।

40 साल पुरानी महत्वाकांक्षी बाणसागर परियोजना का लोकार्पण करने के बाद पीएम मोदी ने कहा ‘‘इस परियोजना का खाका 40 साल पहले 1978 में खींचा गया था। लेकिन काम शुरू होते होते 20 साल निकल गए। कई सरकारें आईं-गईं लेकिन इस परियोजना पर सिर्फ बातें वायदे हुए।’

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक प्रधानमंत्री ने कहा कि बाणसागर परियोजना 300 करोड़ रुपए में पूरी हो सकती थी लेकिन ऐसा हुआ नहीं। अब यह 3500 करोड़ रूपये में पूरी हुई। ‘घड़ियाली आंसू बहाने वालों से आपको पूछना चाहिए कि देश में अधूरी पड़ी ऐसी ही कई योजनाएं उन्हें नजर क्यों नहीं आईं। उन्होंने सिंचाई परियोजनाओं को पूरा क्यों नहीं किया। सिर्फ बाणगंगा का मामला नहीं है। देश के हर राज्य में ऐसी कई योजनाएं अटकी पड़ी हैं।’

मोदी ने कहा, “बाणसागर परियोजना से सिर्फ मिर्जापुर ही नही बल्कि इलाहाबाद समेत इस पूरे क्षेत्र की डेढ़ लाख हेक्टेयर जमीन को सिंचाई की सुविधा मिलने जा रही है। जो लाभ अब आपको मिलने वाला है वह आपको दो दशक पहले मिल जाता, अगर यह परियोजना समय पर पूरी हो जाती। लेकिन पिछली सरकारों ने यहां के किसानों की चिंता नहीं की।’’

उन्होंने कहा, “विंध्य पर्वत और भागीरथी के बीच बसा यह क्षेत्र सदियों से अपार संभावनाओं का केंद्र रहा है। मार्च में जब मैं यहां सौर ऊर्जा संयंत्र का उद्घाटन करने आया था तब फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों भी मेरे साथ आए थे। हमारा स्वागत विंध्यवासिनी माता की चुनरी के साथ किया गया था। इस स्वागत से अभिभूत मैक्रों ने मां के बारे में जानना चाहा। जब मैंने उन्हें मां के बारे में बताया तो वह बहुत खुश हुए थे।’

पीएम मोदी और सीएम योगी का पोस्टर फाड़ने लगे लोग

हालांकि इस रैली में एक अजीबोगरीब स्थिति देखने को मिली, जहां लोग अचानक प्रधानमंत्री मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लगे सभी पोस्टरों को फाड़ने लगे। दरअसल, आजतक ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें रैली में आए लोग पीएम मोदी और सीएम योगी की होर्डिंग और पोस्टर फाड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं।

पोस्टर फाड़ रहे एक शख्स से जब रिपोर्टर ने पूछा कि पोस्टर फाड़कर कहां ले रहा रहे हो। इस पर वह मुस्कुराते हुए पोस्टर लेकर चला गया। दरअसल पीएम के रैली को देखते हुए यहां काफी बड़े-बड़े होर्डिंग और पोस्टर लगे हुए थे। अब लोगों को लगा कि अगर यह पोस्टर घर पर चला जाए तो काफी काम आ सकता है। जिसके बाद लोग पोस्टरों और बैनरों पर पर टूट पड़े।

घर चलो, मोदी जी !

घर चलो, मोदी जी !.. किया लोगों ने इरादा और उठा ले गए 'उन्हें' मिर्ज़ापुर रैली के बाद. देखिये क्या है पूरा मामला, Rohit Kumar Singh की इस #ReporterDiary में.

Posted by Aaj Tak on Sunday, July 15, 2018

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here