प्रधानमंत्री मोदी ने मां दुर्गा की जगह की देवी काली की पूजा! सोशल मीडिया यूजर्स ने साधा निशाना

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अक्सर अपने सार्वजनिक भाषणों में तथ्यों को गलत तरीके से प्रस्तुत करने के लिए आलोचना का सामना करना पड़ता है। जबकि कुछ राजनीतिक विरोधियों का कहना है कि पीएम मोदी जानबूझकर चुनावी लाभ पाने के लिए तथ्यों की गलतफहमी का सहारा लेते हैं। वहीं, अन्य लोग पीएम मोदी के इस आदत को उनकी संदिग्ध शैक्षिक योग्यता के लिए जिम्मेदार ठहराते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में दुर्गा अष्टमी पर देशवासियों को दुर्गा पूजा की शुभकामनाएं दीं। शुभकामनाएं देते हुए पीएम मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दो तस्वीरें भी शेयर की जिसमें पीएम मां काली की पूजा करते दिखाई दे रहे हैं।

तस्वीर शेयर करते हुए पीएम ने लिखा, दुर्गा अष्टमी के शुभ अवसर पर नमस्ते। मां दुर्गा हर किसी की आकांक्षाओं को पूरा करती हैं। खुशी का माहौल पैदा करती है और हमारे समाज से सभी बुराइयों को खत्म करती हैं।

लेकिन पीएम मोदी की इस पोस्ट पर लोगों ने इस बात पर आपत्ति जताई कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मां दुर्गा और मां काली में फर्क नहीं पता।

एक यूजर ने ट्वीट करते हुए लिखा, “नरेंद्र मोदी जी ये मां दुर्गा नही काली मां है और काली माता के पूजन मे अभी भी 15 दिन पड़े हैं। आप खुद को कट्टर हिंदू कहते हो और कट्टर हिंदू को दुर्गा मां और काली मां मे अंतर भी नही पता। खैर आपको हिंदु धर्म व हिंदुओं की आस्था से मतलब नही आपको अपनी वोटों से मतलब हैं।”

वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा, “मोदी जी मां दुर्गा की अष्टमी होती है, मां काली की पूजा नही थी कल और जनता की तो एक ही मांग है मां दुर्गा से शीघ्र ही कलयुग के रावण का अंत हो और राम राज्य वापिस आ सेक।”

वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा, “यह मां काली की प्रतिमा है। आप कैसे कट्टर हिंदू हैं जिसे मां दुर्गा और मां काली के स्वरूप और पूजा पद्धति का फर्क भी नहीं पता है?”

प्रधानमंत्री मोदी ने मां दुर्गा की जगह की देवी काली की पूजा! सोशल मीडिया यूजर्स ने साधा निशाना

प्रधानमंत्री मोदी ने मां दुर्गा की जगह की देवी काली की पूजा! सोशल मीडिया यूजर्स ने साधा निशानाhttp://www.jantakareporter.com/hindi/pm-modi-goddess-kali-as-durga/213948/

Posted by जनता का रिपोर्टर on Friday, 19 October 2018

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here