सोशल मीडिया: “गनीमत है कि पीएम मोदी ने अभी तक वायनाड को पाकिस्तान नहीं कहा है”

1

महाराष्ट्र के वर्धा में मतदाताओं को लुभाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (1 अप्रैल) को एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए हिंदू-मुसलमान के नाम पर वोट मांगने हुए एक झूठ का सहारा लिया। इस दौरान उन्होंने हिंदू मतदाताओं को कांग्रेस के खिलाफ भड़काने की पूरी कोशिश की। रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने देश के करोड़ों लोगों का रिश्ता आतंकवाद से जोड़ दिया था। अब लोग जाग गए हैं तो वे भाग रहे हैं। उनका इशारा सीधे तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अमेठी के अलावा केरल की वायनाड से चुनाव लड़ने की ओर था।

File Photo: AFP

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन के लिए चुनाव प्रचार की शुरुआत करते हुए पीएम ने कहा कि हिंदू अब जाग चुका है और विपक्षी दल को दंडित करने का निर्णय लिया है। मोदी ने कहा, ‘‘उस पार्टी (कांग्रेस) के नेता अब बहुसंख्यक (हिंदू) आबादी वाली सीटों से चुनाव लड़ने से डर रहे हैं।’’ हालांकि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष का नाम नहीं लिया लेकिन माना जा रहा है कि उनका निशाना राहुल गांधी पर था। गांधी अपनी परंपरागत सीट अमेठी (उत्तर प्रदेश) के अलावा केरल के वायनाड (केरल) से भी चुनाव लड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस ने ‘हिंदू आतंकवाद’ शब्द का प्रयोग कर देश के करोड़ों लोगों को कलंकित करने का प्रयास किया। आप बताएं, क्या आपको दुख नहीं हुआ था, जब आपने हिंदू आतंकवाद शब्द सुना था? हजारों साल के इतिहास में क्या एक भी उदाहरण है जहां हिंदू आतंकवाद में शामिल रहे हों?’’ मोदी ने लोगों से सवाल किया कि क्या वह शांतिप्रिय हिंदू को आतंकवाद से जोड़ने का पाप करने वाली कांग्रेस को माफ कर देंगे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को भलीभांति पता है कि देश ने उसे दंडित करने का निर्णय लिया है। मोदी ने कहा, ‘‘कुछ नेता चुनाव लड़ने से ही डर रहे हैं। उसने (कांग्रेस) जिन्हें आतंकवादी बताया था, अब वह जाग गए हैं।’’ मोदी ने कहा, ‘‘उन्होंने शांतिप्रिय हिंदुओं को आतंकवाद से जोड़ा… अब वह बहुसंख्यक आबादी वाले क्षेत्रों (अमेठी) से चुनाव लड़ने में डर रहे हैं…अब वहां जा रहे हैं जहां (वायनाड) बहुतायत में आबादी अल्पसंख्यक है।’’

पीएम मोदी ने किया झूठा दावा!

बता दें कि केरल के वायनाड में हिंदुओं की आबादी के बारे में पीएम मोदी के इस दावे का सच्चाई से दूर दूर तक कोई नाता नहीं है, क्योंकि 2011 के जनगणना के अनुसार जिले में सबसे ज्यादा संख्या हिंदू समुदाय का है। पीएम का यह बड़ा झूठ मुकेश अंबानी के चैनल News 18 इंडिया के लिए काम करने वाले एंकर अमीश देवगन के ठीक एक दिन बाद आता है, जिन्हें ट्विटर पर झूठ को लेकर निंदा का सामना करना पड़ा। एंकर के बाद अब पीएम मोदी की भी सोशल मीडिया पर आलोचना शुरू हो गई है।

देखिए, लोगों के रिएक्शन:

पीएम मोदी के इस बयान का सोशल मीडिया पर तीखी आलोचना हो रही है। पत्रकार उमाशंकर सिंह ने ट्वीट पर पीएम मोदी पर तंज कसते हुए लिखा, “ग़नीमत है कि पीएम मोदी ने अभी तक वायनाड को पाकिस्तान नहीं कहा है। देशवासियों को उनका शुक्रगुज़ार होना चाहिए।” देखिए, सोशल मीडिया पर लोगों की कुछ प्रतिक्रियाएं:

पीएम मोदी के इस साल के लोकसभा चुनावों में सांप्रदायिक रंग जोड़ने के प्रयासों के विपरीत 2011 की जनगणना के अनुसार, वायनाड की कुल आबादी 8.17 लाख (817,420) है। उनमें से 4.04 लाख (404,460) हिंदू हैं जो जिले में कुल आबादी का लगभग 50 प्रतिशत (49.48%) होता है। जबकि मुस्लिम आबादी 2.34 लाख (234,185) है, जो यहां रहने वाले लोगों की कुल संख्या का 28.65 प्रतिशत है। वहीं, 1.74 लाख (174,453) जनसंख्या के साथ ईसाई तीसरा सबसे बड़ा धार्मिक समूह था, जो जिले में रहने वाले लोगों की कुल संख्या का 21.34 प्रतिशत है।

 

 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here