PM मोदी ने H-1B वीजा पर पाबंदी को लेकर जताई चिंता, कहा- अमेरिका को ‘दूरदर्शी’ रूख अपनाने की जरूरत

0

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने H-1B वीजा पर शर्तें कड़ी करने के ट्रंप प्रशासन के इरादे को लेकर भारत की तरफ से चिंता जताते हुए अमेरिका से कुशल प्रोफेशनल्स की आवाजाही पर ‘तार्किक, संतुलित और दूरदर्शी’ नजरिया अपनाने की अपेक्षा की।

ट्रंप प्रशासन द्वारा एच-1बी वीजा में कटौती का रुख अपनाने के बीच पीएम मोदी ने बुधवार(22 फरवरी) को अमेरिका द्वारा कुशल पेशेवरों की आवाजाही के मामले में संतुलित और दूरदर्शी नजरिया अपनाने का जोर दिया।

अमेरिका में एच1बी वीजा सुविधा में कटौती का भारतीय साफ्टवेयर क्षेत्र के पेशेवरों पर प्रतिकूल प्रभाव होगा। मोदी ने अमेरिकी कांग्रेस के द्विदलीय प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करते हुए कहा कि अमेरिकी प्रशासन और कांग्रेस में बदलाव के बाद द्विपक्षीय आदान-प्रदान के मामले में प्रतिनिधिमंडल का आगमन अच्छी शुरुआत है।

पीएम ने इस मौके पर राष्ट्रपति ट्रंप के साथ हुई उनकी सकारात्मक बातचीत को याद किया और पिछले ढाई साल में गहरे हुये द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत बनाने की प्रतिबद्धता के बारे में बताया। मोदी ने भारत-अमेरिका भागीदारी के लिए कांग्रेस के दोनों दलों के मजबूत समर्थन की भी पुष्टि की। प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी एक वक्तव्य में यह जानकारी दी गई है।

प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के दौरान मोदी ने उन क्षेत्रों के बारे में अपने विचारों से अवगत कराया, जिनमें दोनों देश अधिक नजदीकी के साथ काम कर सकते हैं। इन क्षेत्रों में लोगों के बीच बेहतर संपर्क महत्वपूर्ण है, जिसका पिछले कई सालों के दौरान एक दूसरे की समृद्धि में काफी योगदान रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here