भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास में योगदान और लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए ‘सोल शांति पुरस्कार’ से नवाजे जाएंगे प्रधानमंत्री मोदी

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर डंका बजा है। भारतीय और वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं के विकास में योगदान और लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस साल का सोल शांति पुरस्कार दिया जाएगा। प्रधानमंत्री को विश्व शांति में और अपनी विशिष्ट आर्थिक नीतियों से वैश्विक एवं भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास में योगदान के लिए विश्व के अत्यंत प्रतिष्ठित सोल शांति पुरस्कार 2018 के लिए चुना गया है।

File Photo: @PIB_India

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बुधवार (24 अक्टूबर) को अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट कर यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री माेदी को उनकी विशिष्ट आर्थिक नीतियों ‘मोदीनॉमिक्स’ के जरिए वैश्विक एवं भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि तथा विश्व शांति, मानव विकास में सुधार और भारत में लोकतंत्र को मजबूत करने की दिशा में उनके योगदान के लिए प्रतिष्ठित सोल शांति पुरस्कार के लिए चुना गया है।

समाचार एजेंसी यूनिवार्ता के मुताबिक, सोल शांति पुरस्कार सांस्कृतिक प्रतिष्ठान बुधवार को दक्षिण कोरिया की राजधानी सोल में घोषणा की। प्रतिष्ठान ने अमीरों और गरीबों के बीच सामाजिक और आर्थिक खाई को कम करने के लिए ‘मोदीनॉमिक्स’ की प्रशंसा की है। पीएम मोदी को इस पुरस्कार के तहत एक अवॉर्ड, पट्टिका के साथ 2 लाख डॉलर यानी करीब 1.46 करोड़ रुपये की धनराशि प्रदान की जाएगी। पीएम मोदी दुनिया के इस प्रतिष्ठित सम्मान को हासिल करने वाली 14वीं हस्ती हैं।

पीएम मोदी के अलावा यह पुरस्कार पाने वालों में संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान और बान की-मून भी शामिल हैं। इस प्रतिष्ठान ने मोदी सरकार के भ्रष्टाचार रोकने के लिए उठाए गए विभिन्न कदमों तथा वैश्विक एवं क्षेत्रीय शांति के लिए किए गए कूटनीतिक प्रयासों विशेष रूप से एक्ट ईस्ट नीति की भी सराहना की है।

आपको बता दें कि इस वर्ष यह दूसरा मौका है जब श्री मोदी को अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। इससे पहले पर्यावरण के क्षेत्र में योगदान के लिए प्रधानमंत्री मोदी को इसी वर्ष संयुक्त राष्ट्र के सर्वोच्च पुरस्कार ‘चैम्पियन ऑफ दि अर्थ’ एवार्ड से सम्मानित किया गया है। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुटेरेस ने स्वयं राजधानी नई दिल्ली आकर पीएम मोदी को इस सम्मान से नवाजा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here