आसियान सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए नए लुक में फिलीपींस पहुंचे PM मोदी, ब्लेजर के साथ पहना पठानी सूट

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार (12 नवंबर) को फिलीपींस की राजधानी मनीला पहुंच चुके हैं, जहां वह भारत-आसियान शिखर सम्मेलन समेत विभिन्न द्विपक्षीय एवं बहुपक्षीय कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। फिलीपींस रवाना होने की पूर्व संध्या पर प्रधानमंत्री ने कहा था कि भारत-आसियान शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के उद्देश्य से फिलीपींस की उनकी यात्रा एक्ट ईस्ट पॉलिसी के तहत आसियान सदस्य देशों एवं भारत-प्रशांत क्षेत्र के साथ संबंध प्रगाढ़ करने के लिये देश की प्रतिबद्धता का प्रतीक है।

@MEAIndia

अपनी ड्रेस की वजह से भी सुर्खियों में रहने वाले पीएम मोदी इस दौरे के दौरान भी अलग अंदाज में दिखाई दिए। आम तौर पर हमेशा साधारण कुर्ते पजायमे पहनने वाले मोदी फिलीपींस की यात्रा के दौरान पठानी कुर्ते-पजायमे में दिखाई दिए। इस दौरान उन्होंने इसके ऊपर से ब्लेजर भी पहन रखा था। उनका यह लुक उनकी पिछली स्टाइल से काफी अलग था।

पीएम मोदी को संभवतः पहली बार पठानी स्टाइल के कुर्ते-पायजामे में देखा गया होगा। आमतौर पर पीएम मोदी चूड़ीदार पायजामे के साथ कुर्ता पहने नजर आते हैं। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री बनने से लेकर अब तक हमेशा नरेंद्र मोदी अपने ड्रेसिंग सेंस को लेकर चर्चा में रहे हैं।

अपनी तीन दिवसीय यात्रा के तहत मोदी आसियान-भारत शिखर सम्मेलन एवं पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के अलावा आसियान की 50वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में विशेष आयोजनों, क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझोदारी आरसीईपी नेताओं की बैठक एवं आसियान कारोबार एवं निवेश शिखर सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगे।

प्रधानमंत्री ने कल एक बयान में कहा था कि इन सभी कार्यक्रमों में उनकी भागीदारी आसियान सदस्य देशों और भारत-प्रशांत क्षेत्र के साथ संबंध में प्रगाढ़ता बनाये रखने की भारत की प्रतिबद्धता का प्रतीक है। मोदी ने कहा कि वह फिलीपीन के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतर्ते के साथ द्विपक्षीय बैठक को लेकर आशान्वित हैं और वह आसियान एवं पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन के नेताओं से भी बातचीत करेंगे।

उन्होंने कहा कि वह फिलीपीन में भारतीय समुदाय के साथ जुड़ने की बात से भी आशान्वित हैं। 10 सदस्यीय आसियान और भारत की कुल आबादी 1.85 अरब है जो वैकि आबादी का एक चौथाई हिस्सा है। इनकी कुल जीडीपी 3800 अरब डॉलर से अधिक होने का अनुमान है।

भारत एवं आसियान के बीच कारोबार वर्ष 2015-16 में 65.04 अरब डॉलर था और यह दुनिया के साथ भारत के कुल कारोबार का 10.12 प्रतिशत था। पिछले 36 सालों में किसी भारतीय प्रधानमंत्री की यह पहली फिलीपींस यात्रा है। इससे पहले तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 1981 में फिलीपींस का दौरा किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here