हैदराबाद रेप पीड़िता की पहचान उजागर करने पर मीडिया घरानों के खिलाफ हाई कोर्ट में याचिका दायर

0

दिल्ली हाई कोर्ट में मंगलवार को एक याचिका दाखिल की गई जिसमें हैदराबाद में दुष्कर्म और हत्या के मामले में मीडिया घरानों पर महिला पशु चिकित्सक की पहचान उजागर करने पर कानून के कथित उल्लंघन का आरोप लगाया गया है। याचिका पर सुनवाई बुधवार को होगी। मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति सी हरिशंकर की पीठ मामले की सुनवाई करेगी।

हैदराबाद

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली के वकील यशदीप चहल की ओर से दाखिल याचिका में कहा गया है कि याचिका का मकसद दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने के चलन पर लगाम लगाना है। यह भादंसं की धारा के अलावा उच्चतम न्यायालय के पूर्व के कई फैसलों का उल्लंघन भी है।

अधिवक्ता चिराग मदान और साई कृष्ण कुमार की आरे से दाखिल याचिका में आरोप लगाया गया है कि राज्य पुलिस अधिकारियों ने और उनके साइबर सेल ने पीड़िता और आरोपियों की लगातार पहचान उजागर होने को रोकने के लिए कुछ नहीं किया।

गौरतलब है कि, तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद के एक सरकारी अस्पताल में सहायक पशु चिकित्सक के तौर पर काम करने वाली युवती का जला हुआ शव 28 नवंबर की सुबह शादनगर में एक पुलिया के नीचे से बरामद किया गया था। सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी। हत्यारों ने गुनाह के साक्ष्य (सबूत) मिटाने के मकसद से उसके शव को जला दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here