स्वतंत्रता दिवस के बधाई पोस्टर में पीएम मोदी, अमित शाह और योगी आदित्यनाथ के साथ छपी उन्नाव रेप केस के आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर की फोटो

0

उत्तर प्रदेश के उन्नाव दुष्कर्म मामले के मुख्य आरोपी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को लेकर एक नया बवाल शुरू हो गया है। रक्षाबंधन और 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर उन्नाव नगर पंचायत के चेयरमैन की ओर से लोगों को बधाई देते हुए जारी एक विज्ञापन में कुलदीप सिंह सेंगर की फोटो थी। यह विज्ञापन एक प्रतिष्ठित अखबार में 15 अगस्त को छपवाया गया था। अखबार में प्रकाशित यह विज्ञापन सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

कुलदीप सिंह सेंगर

दरअसल, उन्नाव नगर पंचायत के अध्यक्ष अनुज कुमार दीक्षित द्वारा एक अखबार में स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी गई थी, उसमें उन्नाव रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की तस्वीर छपी है। यह तस्वीर 15 अगस्त 2019 की उन्नाव एडिशन के फर्स्ट पेज की तस्वीर शेयर की है। जिसमें स्वतंत्रता दिवस, रक्षाबंधन और जन्माष्टमी की बधाई देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की तस्वीरें लगी हैं। इसके अलावा विज्ञापन पर देश के गृह मंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई दिग्गज नेताओं की भी तस्वीरें हैं।

इस विज्ञापन पर मचे बवाल को लेकर नगर पंचायत के अध्यक्ष ने सफाई भी है। समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक इस मसले पर अनुज कुमार दीक्षित ने कहा, वह (कुलदीप सिंह सेंगर) हमारे क्षेत्र के विधायक हैं, इस वजह से यह तस्वीर वहां पर है। जब तक वह हमारे विधायक हैं, उनकी तस्वीर छापी जा सकती है।”

विज्ञापन की यह तस्वीर अब सोशल मीडिया खूब वायरल हो रहीं है। इस विज्ञापन पर सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहें है। वहीं, दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने विज्ञापन छपवाने वाले पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

स्वाति मालीवाल ने गुरुवार को ट्वीट कर लिखा, “साफ़ ज़ाहिर है सैंगर BJP के दिल में बसता है, पार्टी से तो मजबूरी में निकाला है! ये नेताजी इस ‘माननीय’ रेपिस्ट & हत्यारे की फ़ोटो पेपर के पहले पन्ने पर स्वतंत्रता दिवस पे छपवाय हैं! इस ऐड को छपवाने वाले & छापने वाले पर कड़ी कार्यवाई होनी चाहिए! किससे आशा करें सख़्त ऐक्शन की?”

बता दें कि, अभी हाल ही में दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने पॉस्को एक्ट के तहत 2017 में उन्नाव में एक नाबालिग लड़की के बलात्कार के मामले में भाजपा से निष्कासित विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ आरोप तय किए है। बता दें कि, सुप्रीम कोर्ट में सुनावाई के बाद इस केस से जुड़े सभी मामलों को दिल्ली ट्रांसफर कर दिया गया था। सुप्रीम कोर्ट ने पीड़त परिवार के आग्रह पर इन केस को दिल्ली ट्रांसफर करने का आदेश जारी किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here