“मोदी सरकार करा रही है विपक्ष,नौकरशाहों और न्यायाधीशों के फोन टैप”

0

उत्तराखंड और अगस्ता वेस्टलैंड मुद्दे पर आरोप-प्रत्यारोप के बीच कांग्रेस ने मोदी सरकार पर विपक्ष, नौकरशाहों और न्यायाधीशों के फोन टैप कराने का आरोप लगाया है।
23slid2

काँग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा ने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार वरिष्ठ नेताओं और नौकरशाहों को निगरानी में रख रही है, दस्तावेज तैयार कर रही, सरकारी एजेंसियों और मीडिया के आसानी से वश में आ जाने वाले हिस्से का इस्तेमाल कर रही है।

समाचार ऐजन्सी पीटीआई के मुताबिक आनंद शर्मा ने कहा कि बीजेपी सरकार में एक गंदी तरकीब विभाग है जो विपक्ष, सिविल सेवकों और न्यायाधीशों की फोन टैपिंग करने के लिए ओवरटाइम काम कर रहा है। राजनीतिक ब्लैकमेल के इस खेल को रोकने के लिए सरकार को आगाह करते हुए काँग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा ने कहा कि यह झूठी अफवाह फैला रही है और अपमानित करने की कोशिश कर रही है। शर्मा ने हैरानी जताई कि रक्षा मंत्रालय, सीबीआई, ईडी के गोपनीय दस्तावेज चयनित रूप से कैसे कुछ चैनलों और एजेंसियों को लीक हो गए।

Also Read:  पाकिस्तान में न्यूज़ चैनल के कैमरा मैन की गोली मारकर हत्या

जनसत्ता के मुताबिक काँग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा ने कहा कि इसने एक अधूरी तस्वीर बनाई। पूरी तस्वीर लेकर विपक्ष संसद में आया। शर्मा ने आगे कहा कि सरकार को विपक्ष को निशाना बनाने की बजाय अपने वादों को पूरा करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। ‘जब आप अर्थव्यवस्था, रोजगार वृद्धि, गिरते निर्यात और निवेश की दर में कमी पर नजर डालते हैं तो वे बुरी तरह से नाकाम दिखते हैं।’ हाल ही में संपन्न सत्र के बारे में काँग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा ने कहा कि बजट सत्र ने 24 कानून पारित किए। यह खुद में एक रिकॉर्ड है। साल 2014 में मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद से 80 से अधिक विधेयक पारित किए गए। यह एक परिपक्व विपक्ष का गवाह है। उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री मोदी द्वारा फैलाई जा रही इस झूठी अफवाह को भी खारिज करता है कि विपक्ष विधेयकों को पारित करने में रोड़े अटका रहा है। शर्मा ने कहा कि पारित किए गए कई विधेयकों को भाजपा ने विपक्ष में रहने के दौरान अटका कर रखा था। उन्होंने उत्तराखंड मुद्दे को लेकर भी सरकार पर निशाना साधा।

Also Read:  क्या है GST, जानिए क्या होगा मंहगा और क्या होगा सस्ता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here