जब पेट्रोल और डीजल की कीमतों में भारी बढ़ोतरी पर ट्विटर पर खूब उड़ा मोदी का मज़ाक

0

दिल्ली में केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीज़ल की कीमतों में इस हफ्ते की गई भारी बढ़ोतरी का सोशल मीडिया पर ज़बरदस्त विरोध जारी है ।

डीज़ल और पेट्रोल की कीमतों में ये इज़ाफ़े ऐसे समय हो रहे हैं जब अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल की कीमत अब तक के सब से नीचे स्तर पर है ।

मोदी सरकार की पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों पर काबू पाने में नाकामी निंदा और मज़ाक दोनों ही का विषय बन रहा है ।

लेकिन दिल्ली में डीजल की कीमत में तीन रूपये से भी ज़्यादा की बढ़ोतरी ऐसे समय की गई है जब विजय मल्ल्या द्वारा 7,000 करोड़ रूपये से भी ज़्यादा का लोन न चुकाने का मामला ज़ोरों पर है ।

मल्ल्या का इतनी बड़ी रक़म ना चुकाने के बावजूद देश छोड़ कर चले जाने पर केंद्र की मोदी सरकार की बड़ी निंदा हुयी थी ।

कई लोगों ने कीमतों में नयी बढ़ोतरी को मल्ल्या टैक्स का भी नाम दिया ।

पेट्रोलियम पदार्थों की आसमान छूती कीमतों पर लगाम लगाने में केंद्र सरकार की नाकामी का कल भी ट्विटर पर खूब मज़ाक उड़ाया गया ।

मोदी के विरोधियों ने प्रधानमंत्री और उनके समर्थकों के पुराने ट्वीट्स भी पोस्ट किये जिन के ज़रये वो पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ाए जाने पर समय समय पर केंद्र की उस समय की मनमोहन सिंह सरकार को निशाना बनाया करते थे ।

ट्विटर यूज़र्स ने हैशटैग #CrudeDownPetrolUp के तहत अपनी नाराज़गी व्यक्त की ।

पेश है इस विषय पर पोस्ट किये गए चंद ट्वीट्स :

 

LEAVE A REPLY