नौ बजे नौ मिनट: पटाखे जलाने को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने यूं जताई नाराजगी, शेयर किए वीडियो

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘नौ बजे नौ मिनट’ के आह्वान का पालन करते हुए करोड़ों देशवासियों ने रविवार रात नौ मिनट तक अपने घरों की बत्तियां बुझा दीं और दीये, मोमबत्ती तथा मोबाइल फोन की फ्लैशलाइट जलाई। जहां कुछ लोगों ने दीये के साथ अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा की तो वहीं कुछ लोगों ने इस अवसर पर पटाखे जलाने वालों की आलोचना की।

पटाखे
फोटो: सोशल मीडिया

खुद प्रधानमंत्री ने भी कुछ पल के लिए पीएमओ के लाइटें बंद करवा दीं। इसके बाद उन्होंने खुद दीप जलाकर इस अभियान में अपना योगदान प्रदर्शित किया। उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडल पर दीप जलाते हुए चार तस्वीरें साझा की। उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडल पर एक श्लोक भी लिखा, “शुभं करोति कल्याणमारोग्यं धनसंपदा । शत्रुबुद्धिविनाशाय दीपज्योतिर्नमोऽस्तुते॥

वही, कई केंद्रीय मंत्रियों और जानी मानी हस्तियों ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ मोमबत्तियां जलाते हुए वीडियो क्लिप और खुद की तस्वीरें साझा की। हालांकि, इस दौरान पटाखे जलाने का पर नाराजगी जताते हुए कई सोशल मीडिया यूजर्स ने अपने विचार रखे। यूजर्स ने रात नौ बजते ही पटाखे फोड़ने और नारे लगाने वाले लोगों की वीडियो क्लिप और तस्वीरे साझा करने लगे।

अरुण कुमार ने ट्वीटर पर पटाखे जलाने वालों की चुटकी लेते हुए लिखा, “कोरोना वायरस के देश में आगमन की खुशी मनाते हुए देशवासी। बहुत अच्छे।’’ दिव्यांगों के अधिकार के लिए काम करने वाले निपुण मल्होत्रा ​​ने लोगों से पटाखे न फोड़ने का आग्रह किया और उन्हें याद दिलाया कि यह कोई खुशी का मौका नहीं है। उन्होंने लिखा, ‘‘दीया जलाओ। एकजुट रहो। लेकिन पटाखे? सच में? यह कोई पार्टी नहीं है!’’

देखें कुछ ऐसे ही ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here