अलवर हत्याकांड मामला: पहलू खान के बेटे और मुख्य गवाहों पर कोर्ट जाते समय जानलेवा हमला, हमलावरों ने की फायरिंग

0

राजस्थान के अलवर में चर्चित पहलू खान मॉब लिंचिंग मामले के गवाहों पर अज्ञात हमलावरों द्वारा कथित रूप से फायरिंग का मामला सामने आया है। रिपोर्ट के मुताबिक, शनिवार को अज्ञात बदमाशों ने उस कार पर गोलीबारी की, जिसमें लिंचिंग में मारे गए पहलू खान का बेटा इरशाद और 2017 में हुए इस वारदात का एक अन्य मुख्य गवाह सवार था। ये लोग सुनवाई के लिए राजस्थान के बहरूद में स्थित एक अदालत जा रहे थे।

Pehlu Khan

इस बारे में पुलिस में शिकायत दर्ज की गई है। बेटा इरशाद ने अलवर में मामला दर्ज कराया, जिसमें उसने कहा कि ‘कुछ अज्ञात अपराधियों ने उसकी कार पर गोलीबारी की, जब वे लोग सुनवाई के लिए बहरूद जा रहे थे।’ आपको बता दें कि पहलू खान की पिछले वर्ष गायों की तस्करी के संदेह में पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी।

बेटे द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार मृतक पहलू खान के पुत्र इरशाद और आरिफ सहित छह लोग और उनके वकील बहरोड की एक अदालत में मॉब लिंचिंग मामले की गवाही देने जा रहे थे, तभी एक बिना नंबर प्लेट वाली एसयूवी में सवार अज्ञात लोगों ने उन पर गोली चलाई और भाग गए।

इरशाद ने कहा कि सुबह 9 बजे के करीब एक बिना नंबर प्लेट वाली कार उनसे आगे बढ़ गई और कार में सवार एक बदमाश ने उनसे मामले में गवाह के तौर पर अदालत में पेश नहीं होने के लिए कहा। उसने कहा कि उसे कार को रोकने के लिए कहा गया, जब उन्होंने कार नहीं रोकी तो बदमाशों ने कार पर गोलीबारी की। इसके कुछ देर बाद, बदमाश बहरूद की तरफ चले गए और पहलू खान का बेटा और गवाह अलवर वापस आ गए।

इरशाद के साथ मामले का मुख्य गवाह मौजूद था, जिसे अपना बयान दर्ज कराने के लिए अदालत के समक्ष पेश होना था. इसके अलावा कार में अजमत, रफीक, आरिफ और मानवाधिकार कार्यकर्ता असद मौजूद थे। वहीं, अलवर पुलिस अधीक्षक राजेंद्र सिंह ने बताया कि गवाहों की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर गया है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि मामले की पूरी जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी से एकत्रित फूटेज की जांच की जा रही है।

आपको बता दें कि साल 2017 में अलवर में 55 साल के पहलू खान की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड के बाद देशभर में जबरदस्त आक्रोश फैला था। जिस वक्त पहलू पर हमला हुआ उस वक्त वह राजस्थान में गाय खरीदने के बाद हरियाणा जा रहे थे। डेयरी बिजनस करने वाले पहलू खान की हमले के 2 दिन बाद मौत हो गई थी। भीड़ ने उन्हें पशु तस्कर समझकर हमला किया था। मामले में राजस्थान पुलिस ने 6 आरोपियों को क्लीन चिट दे दी थी, जबकि 9 अन्य आरोपियों के खिलाफ आपराधिक मामला चलाए जाने की बात कही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here