केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए सिर्फ 10 हजार रुपये दान कर ट्रोल हुए Paytm के अरबपति मालिक विजय शेखर

0

केरल में तेज बारिश और बाढ़ की वजह से लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, मूसलाधार बारिश और बाढ़ ने भयंकर तबाही मचा रखी है। कई क्षेत्रों में बाढ़ का पानी भर जाने से स्थिति और गंभीर हो गई है। वहां हालात बेहद खराब हो गए हैं। भारी बारिश और बाढ़ के चलते अब तक 370 लोगों की मौत हो चुकी है। पूरे राज्य से बाढ़ की खौफनाक तस्वीरें सामने आ रही हैं। एनडीआरएफ के अलावा, सेना की तीनों फोर्सेज राहत-बचाव कार्यों में लगी हुई हैं।

Paytm founder

इस मुश्किल समय में भारत के सभी राज्यों सहित दुनिया भर के लोग केरल के लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं।आम से लेकर देश विदेश के खास लोग भी अपने-अपने स्तर पर पैसे और जरुरी सामान इकट्ठा कर बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए दान दे रहे हैं। इस बीच केरलवासियों की मदद करने में ऑनलाइन पेमेंट पोर्टल PayTm (पेटीएम) के फाउंडर व मालिक विजय शेखर शर्मा भी शामिल हैं।

पेटीएम के अरबपति संस्थापक विजय शेखर ने बाढ़ पीड़‍ितों की मदद के लिए सिर्फ 10 हजार रुपये का योगदान अपने पेटीएम ऐप से किया। अरबपति शर्मा की तरफ से मात्र 10 हजार रुपये की इस मदद को सोशल मीडिया यूजर्स ने बेहद ‘मामूली’ बताते हुए उन्हें जमकर ट्रोल किया। लोगों का कहना है कि इतनी बड़ी कंपनी के सीईओ होने के बाद भी सिर्फ उन्होंने 10 हजार रुपए ही दान किए।

विजय शेखर ने एक स्क्रीनशॉट ट्वीट करते हुए जानकारी दी कि उन्होंने केरल के लोगों की मदद करने के लिए 10 हजार रुपये दान दिए हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे PayTm ऐप के जरिए दान करें। हालांकि आलोचना के बाद विजय शेखर शर्मा ने अपना ट्वीट हटा लिया। शर्मा का दावा है कि उन्होंने यह ट्वीट इसलिए किया ताकि और लोग उनसे प्रेरणा ले सकें। वहीं कंपनी के मुताबिक PayTm के जरिए सबसे सहयोग से 19 अगस्त तक 30 करोड़ रुपए इकट्ठा कर ली है।

आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब विजय शेखर शर्मा की उदारता को लेकर सवाल उठे हैं। दिसंबर 2017 में भी सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर भारतीय सशस्त्र बलों को 501 रुपए दान करने और ट्विटर पर इसे शेयर करने पर भी वो सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए थे।

बता दें कि ऐसी मुश्किल घड़ी में केरल की तरफ देश के आम से लेकर खास लोगों ने मदद का हाथ बढ़ाया है। राज्य को केंद्र सरकार से जहां 600 करोड़ रुपए की सहायता राशि मिली है। इसके अलावा कई राज्य सरकारों ने भी केरल की मदद के लिए राशि देने की घोषणा की है। वहीं, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने मदद का हाथ बढ़ाते हुए राज्य को 700 करोड़ रुपए की सहायता देने की पेशकश की है। केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने इस बारे में जानकारी दी है।

केरल में बारिश और बाढ़ ने 100 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। राज्य के कई हिस्से पूरी तरह से जलमग्न हो गए हैं। अब तक 370 लोगों की जान जा चुकी है और दो लाख से अधिक लोग बेघर हो गए हैं। इन लोगों ने 1500 से ज्यादा राहत कैंपों में शरण ले रखी है। मूसलाधार बारिश और बाढ़ के चलते कोच्चि एयरपोर्ट तक में पानी भर गया है, जिसके चलते विमानों का संचालन पूरी तरह से रोक दिया गया है। ट्रेन और सड़क परिवहन सेवाएं ठप हो गई हैं।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here