डॉ. कलाम के नाम से गलत मैसेज शेयर कर बुरे फंसे परेश रावल, ट्विटर पर हुए ट्रोल

0

इन दिनों अगर आपको तत्काल प्रसिद्धि पाना हो तो सोशल मीडिया से बेहतरीन मंच कुछ और नहीं हो सकता। सोशल मीडिया पर आप कुछ भी पोस्ट कर रातोरात स्टार बन सकते हैं। लेकिन किसी भी पोस्ट या तस्वीर को शेयर करने से पहले आपको अपने दिमाग से पता लगाना होता है कि वो आपका मैसेज सच है या झूठ।

photo: storypick.com

क्योंकि, सोशल मीडिया ऐसा मंच है जहां आप फर्जी मैसेज को शेयर कर बच नहीं सकते हैं। यहां एक से बढ़कर एक एक्पर्ट आप पर नजर गड़ाए बैठे हुए हैं, जो आपके गलत मैसेज को पलभर में पोल खोल देंगे और आप ट्रोल हो जाएंगे। ताजा मामला अभिनेता और सांसद परेश रावल से जुड़ा है, जिनके एक ट्वीट को देखकर ऐसा लगता नहीं है कि उन्हें अभी भी सही और गलत की पहचान है।

जी हां, बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता और भारतीय जनता पार्टी के सांसद परेश रावल ने सोमवार(3 जुलाई) को अपने ट्वीटर हैंडल से पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम के नाम से एक मैसेज शेयर की, जिस पर एक कोट भी लिखा हुआ था।

परेश द्वारा शेयर किए गए कोट में डॉ. कलाम के हवाले से लिखा था कि, “मुझे पाकिस्तान ने अपने तरफ मिलाने की हर संभव कोशिश की! मुझे देश का हवाला दिया गया मुझे इस्लाम का हवाला दिया गया मुझे कुरान का हवाला दिया गया लेकिन मैंने अपनी मातृभूमि से कोई गद्दारी नहीं की क्योंकि अपने कर्तव्य से हटना मेरे धर्म और देश दोनों के लिए एक बदनामी की बात होती!” जबकि बाद में पता चला कि यह कोट डॉ. कलाम द्वारा कभी भी कहा या लिखा ही नहीं गया है।

बाद में दी सफाई

इस फर्जी कोट को लेकर लोगों ने परेश रावल की जमकर क्लास लगाई। कुछ यूजर्स ने जहां परेश से इस फर्जी मैसेज को शेयर करने पर तीखे सवाल पूछे, वहीं कुछ लोगों ने उन्हें मूर्ख तक करार दे दिया। एक शख्स ने उनसे पूछा कि क्या वजह थी जो परेश रावल को फर्जी जानकारी शेयर करनी पड़ी?

इसपर परेश रावल ने अपनी गलती मानते हुए लिखा, ‘मुझे नहीं पता था कि वह फर्जी है, इसे दोबारा जांचा जाना चाहिए, लेकिन कलाम की वजह से वह बिल्कुल असली लग रहा था।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here