नोएडा के 8 बिल्डरों की हो सकती है गिरफ्तारी, मंत्रियों के समूह ने दिए आदेश

0

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में फ्लैट बनाकर खरीदारों को पजेशन नहीं देने वाले आठ बिल्डरों पर जल्द ही बड़ी कार्रवाई हो सकती है। तीन मंत्रियों के समूह ने गौतमबुद्ध नगर के एसएसपी लव कुमार को इस संबंध में 8 बिल्डरों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए हैं। इन बिल्डरों पर 5,000 लोगों से पैसे लेकर उन्हें फ्लैट ने देने का आरोप है।

Photo: (Sunil Ghosh/HT)

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से चयनति मंत्री समूह ने सोमवार (4 दिसंबर) को गौतमबुद्ध नगर के एसएसपी लव कुमार को निर्देश दिया कि अपने ग्राहकों को 5,000 घरों की डिलिवरी नहीं देने वाले इन 8 बिल्डरों को गिरफ्तार किया जाए। हालांकि, नोएडा के अधिकारियों ने इन बिल्डरों के नाम बताने से इनकार कर दिया है।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक सितंबर में पुलिस ने 6 बिल्डरों के खिलाफ 13 एफईआर दर्ज की थी। इनमें आम्रपाली, सुपरटेक, एल्पाइन रियलटेक, प्रोवियु ग्रुप, टुडे होम्स और जेएनसी कन्सट्रक्शन के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। इन बिल्डरों पर धारा 406 और 420 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

इस साल अगस्त में योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर बनी तीन मंत्रियों की कमिटी में शामिल शहरी आवास मंत्री सुरेश खन्ना ने एसएसपी को इन आठ बिल्डरों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने और इन पर एफआईआर दर्ज करने का भी निर्देश दिया। इसमें शहरी आवास मंत्री सुरेश खन्ना, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सतीश महाना और गन्ना चीनी मिल विकास प्रभारी सुरेश राणा सदस्य हैं। उन्होंने कहा कि 2017 खत्म होते-होते नोएडा में 11,000 फ्लैट डिलीवर किए जाएंगे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here