ड्रग्स मामले में गिरफ्तार हुईं BJP युवा मोर्चा की नेता पामेला गोस्वामी ने लिया कैलाश विजयवर्गीय के सहयोगी राकेश सिंह का नाम, पार्टी सहयोगियों पर साजिश रचने का लगाया आरोप

0

पश्चिम बंगाल में 100 ग्राम कोकीन के साथ गिरफ्तार हुईं भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम) की सचिव पामेला गोस्वामी ने शनिवार को पार्टी के सहयोगी राकेश सिंह पर इसकी साजिश रचने का आरोप लगाया। उन्होंने मामले की जांच सीआईडी से कराने की भी मांग की। भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) की प्रदेश सचिव पामेला ने सिंह को गिरफ्तार करने की भी मांग की।

पामेला गोस्वामी

गौरतलब है कि, पामेला को उनके एक मित्र प्रदीप कुमार डे और उनके (पामेला के) निजी सुरक्षा गार्ड के साथ शुक्रवार को कोलकाता के न्यू अलीपुर इलाके से गिरफ्तार किया गया था। पुलिस के मुताबिक, पामेला के थैले और कार में लाखों रुपए मूल्य की 100  ग्राम कोकीन पाए जाने के बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया था। पामेला ने शहर की अदालत से लॉक-अप में ले जाए जाने के दौरान कहा, मैं सीआईडी जांच चाहती हूं। भाजपा के राकेश सिंह, जो कैलाश विजयवर्गीय के सहयोगी हैं, को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। यह (मेरे खिलाफ) एक साजिश है।”

शनिवार की शाम जब पुलिस पामेला गोस्वामी को एक स्थानीय अदालत में पेश करने के लिए कोर्ट लेकर पहुंची तो कार से नीचे उतरते ही पामेला ने पत्रकारों पर चिल्लाना शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के सहयोगी राकेश सिंह ड्रग्स मामले में शामिल थे। पामेला ने आरोप लगाया कि राकेश सिंह ने ही उनके खिलाफ साजिश रची है। इसके साथ ही पामेला ने मामले की सीआईडी से जांच की मांग भी की।

वहीं भाजपा की प्रदेश कमेटी के सदस्य सिंह ने आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और कोलकाता पुलिस उनके खिलाफ साजिश रच रही है तथा पामेला को सिखा-पढ़ा दिया है। उन्होंने कहा कि वह एक साल से अधिक समय से पामेला के संपर्क में नहीं थे और किसी भी जांच का सामना करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा, यदि मैं संलिप्त हूं तो वे मुझे या कैलाश विजयवर्गीय या अमित शाह को बुला सकते हैं। मुझे लगता है कि पुलिस ने उसे सिखाया-पढ़ाया है।

इस बीच, तृणमूल कांग्रेस ने कहा है कि पूरा प्रकरण भाजपा के असली चेहरे को दर्शाता है। पार्टी महासचिव एवं राज्य में मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा, इससे पहले, उनकी (भाजपा की) एक नेता बच्चों की तस्करी के मामले में गिरफ्तार हुई थीं। अब एक अन्य नेता ड्रग्स मामले में गिरफ्तार हुई हैं। इससे सिर्फ यही साबित होता है कि भाजपा और उसके नेताओं का असली चेहरा क्या है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here