विश्व कप का महामुकाबला: पाकिस्तान ने जीता टॉस, पहले गेंदबाजी का लिया फैसला

0

क्रिकेट इतिहास के दो सबसे बड़े चिर-प्रतिद्वंद्वियों भारत और पाकिस्तान के बीच सुपर संडे को होने वाले आईसीसी विश्व कप के महामुकाबले में जबरदस्त भिड़ंत की उम्मीद है। भारत और पाकिस्तान के बीच ओल्ड ट्रैफर्ड में होने वाले इस मुकाबले का क्रिकेट प्रशंसकों के साथ आईसीसी को भी बड़ी बेसब्री से इन्तजार है जिसके टिकट महीनों पहले बिक गए थे और इस मैच को लेकर सभी की सांसें थमी हुई हैं।

@BCCI

इस बीच पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर भारत के खिलाफ जारी विश्व कप-2019 के मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है। चोटिल शिखर धवन की जगह केएल राहुल रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग करेंगे। बता दें कि रविवार को यह मुकाबला शुरू होते ही स्टेडियम हॉउसफुल हो चुका होगा, करोड़ों निगाहें टीवी स्क्रीन पर चिपक चुकी होंगी और भारत और पाकिस्तान की गलियों में सन्नाटा पसर चुका होगा।

भारत-पाक के बीच क्रिकेट मुकाबला विश्व कप का हो या फिर कोई और मैच, यह कुछ इस तरह का होता है कि प्रशंसक मैच के नतीजे के हिसाब से नायक और विलेन बना लेते हैं जो ताउम्र बरकरार रहते हैं। अजय जडेजा का 1996 विश्व कप क्वार्टरफाइनल में वकार यूनिस की गेंदों को रौंदना हो या फिर सलीम मलिक का ईडन गार्डन्स में 1987 में लक्ष्य का पीछा करते हुए 35 गेंद में 72 रन की पारी खेलकर 90 हजार से ज्यादा दर्शकों को हैरान करना कुछ ऐसे ही वाकए हैं। लोगों को अब भी ये मैच याद हैं जबकि वे भूल गये हैं कि दोनों मैच फिक्सर साबित हुए थे जिन्होंने खेल को बदनाम किया।

चेतन शर्मा को विश्व कप हैट्रिक या लार्ड्स टेस्ट में पांच विकेट झटकने के बजाय इसलिये याद रखा जाता है कि शारजाह में 1986 में उनकी अंतिम फुल टास गेंद पर जावेद मियांदाद ने छक्का जड़ा था। प्रशंसकों के लिए यह मैच कितना अहम है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वे ब्लैक में भी ज्यादा दाम में टिकट खरीदने को तैयार हैं जबकि मौसम उनका जायजा बिगाड़ सकता है।

भारत ने अभी तक विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ सभी छह मैचों में जीत हासिल की है जो एकतरफा रहे। दोनों देशों के बीच बढ़ते सीमा पार तनाव के कारण कई वर्षों से कोई द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली गई है। कोहली का पाकिस्तान के खिलाफ शानदार रिकार्ड रहा है, उन्होंने एडिलेड में 2015 में शतक जड़ा था। अभी तक विश्व कप में उन्होंने सैकड़ा नहीं बनाया है और मैच की अहमियत को देखते हुए वह सैकड़ा जड़ने के प्रबल दावेदार हैं।

टीमें इस प्रकार हैं:

भारत: विराट कोहली (कप्तान), लोकेश राहुल, रोहित शर्मा, विजय शंकर, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, केदार जाधव, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह।

पाकिस्तान: सरफराज अहमद (कप्तान), फखर जमां, इमाम उल हक, बाबर आजम, मोहम्मद हफीज, एस अहमद, शोएब मलिक, इमाम वसीम, शाहदाब खान, हसन अली, वहाब रियाज, मोहम्मद आमिर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here