सुषमा स्वराज की मदद को पाकिस्तान ने बताया चाल, कहा- यह सहायता की भावना नहीं, घोर राजनीति है

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सभी मंत्रियों में से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ऐसी मंत्री हैं जो सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा सक्रिय रहती हैं। विदेश मंत्रालय संभालने के बाद सुषमा से जिसने भी मदद मांगी है, उन्होंने फौरन उनकी मदद की है।हालांकि, सुषमा स्वराज की दरियादिली की पूरी दुनिया में तारीफे होती रहती है, लेकिन इसी बीच पड़ोसी देश की ओर से ऐसा बयान आया है जो बेहद ही चौकाने वाला है।

(AP Photo)

पाकिस्तान ने भारत पर मानवीय मुद्दों को राजनीतिक रंग देने का आरोप लगाया और उसने कहा कि उसके चुनिंदा नागरिकों को मेडिकल वीजा जारी करना करुणा का भाव नहीं बल्कि घोर राजनीति का प्रतीक है। बता दें कि, यह चौंकाने वाला बयान मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को रिहा करने के पाकिस्तान के एेलान के बाद आया है। विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने कहा कि चुनिंदा पाकिस्तानियों को मेडिकल वीजा देने की भारत की नीति खेदजनक है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, साप्ताहिक मीडिया ब्रीफिंग को संबोधित करते हुए फैजल ने कहा कि भारत लगातार मानवीय मुद्दों पर राजनीति कर रहा है जो अधिक निंदनीय है, क्योंकि कई मरीज अपने खर्च पर लंबे समय से भारतीय डॉक्टरों से परामर्श ले रहे हैं।

उन्होंने कहा, भारत के दिखावटीपन से किसी को मूर्ख नहीं बनाया जा सकता। यह करुणा का भावना नहीं बल्कि घोर राजनीति है, जिसके तहत राजनीतिक लाभ के लिए अपनी मर्जी से लोगों का चुनाव किया गया है।

बता दें कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग को भारत में लीवर का प्रतिरोपण कराने के लिए एक पाकिस्तानी महिला को वीजा देने के लिए कहा था। जिसके इसके कुछ दिनों बाद फैजल की यह टिप्पणी आई है।

गौरतलब है कि, पिछले कुछ महीनों से स्वराज ने कई पाकिस्तानी नागरिकों को मेडिकल वीजा देकर उनकी मदद की है। कई लोगों ने उनका आभार भी जताया है। ट्विटर पर वह नियमित तौर पर पाकिस्तानी नागरिकों को मेडिकल वीजा दिलाने में मदद करती दिखती हैं।

सुषमा स्वराज दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण स्थिति के बावजूद मेडिकल आधार पर पाकिस्तानी नागरिकों को वीजा देने के मामले में मानवीय रूख अपनाती रही हैं। यह बयान सिर्फ हैरान करने वाला ही नहीं,बल्कि पाकिस्तानी नागरिकों की मदद करने वाली सुषमा स्वराज की निंदा है।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here