…जब गुजरात रेलवे पुलिस की ‘सुरक्षित सफर’ ऐप में लगा दी पाकिस्तानी ट्रेन की तस्वीर, बाद में हटाया

0

गुजरात रेलवे पुलिस को उस समय बड़ी अजीबोगरीब स्थिति से गुजरना पड़ा जब उन्होंने यात्रियों की सुरक्षा के लिए एक मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किया और अनजाने में इस ऐप में पाकिस्तानी ट्रेन की एक तस्वीर को लगा दिया गया।

गुजरात
फाइल फोटो

दरअसल, गुजरात रेल पुलिस ने ट्रेनों में यात्रियों के कीमती सामान की चोरी, लूटपाट के मामले में रेलवे पुलिस की सहायता के लिए हाल ही में “सुरक्षित यात्रा” नामक एक ऐप लॉन्च किया था। इस ऐप के लॉन्च होने के कुछ दिनों बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने बताया कि ऐप के डैशबोर्ड पर दिखाई देने वाले हरे रंग के रेलवे इंजन की तस्वीर पाकिस्तान की एक ट्रेन की है। अधिकारियों ने कहा कि इसके बारे में जानने के बाद, गुजरात रेलवे पुलिस ने तस्वीर को हटा दिया।

समाचार एजेंसी पीटीआई के हवाले से एनडीटीवी में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, सीआईडी-अपराध और रेलवे के पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआइजी) गौतम परमार ने रविवार को बताया कि, “एप्लिकेशन को अधिक आकर्षक बनाने के लिए, ऐप डेवलपर ने ट्रेनों की कुछ तस्वीरें डाली थीं। इस दौरान उन्होंने अनजाने में एक पाकिस्तानी ट्रेन की तस्वीर का इस्तेमाल कर लिया था। इसके बारे में जानने के बाद, एप के डेवलपर से बात कर हमने उस तस्वीर को हटवा दिया है।”

बता दें कि, इस मोबाइल ऐप को गुजरात के गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने शनिवार (29 फरवरी) को लॉन्च किया था। इस ऐप की मदद से ट्रेन के यात्री किसी भी आपात स्थिति में गुजरात के सरकारी रेलवे पुलिस (जीआरपी) की मदद ले सकते हैं। यात्री इस ऐप का उपयोग करके ड्रग्स या मानव तस्करी से संबंधित मामलों की रिपोर्ट भी कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here