पद्मावती के समर्थन में कल 15 मिनट का ‘ब्लैकआउट’ करेंगे डायरेक्टर, मुंबई में नहीं होगी किसी भी फिल्म की शूटिंग

0

संजय लीला भंसाली की आगामी फिल्म “पद्मावती” को लेकर देश के अलग-अलग राज्यों में जारी घमासान के बीच अब नया मोड़ आ गया है। बॉलीवुड के सितारों से इस फिल्‍म को जमकर समर्थन भी मिल रहा है। इस बीच ‘इंडियन फिल्म एवं डायरेक्टर्स एसोसिएशन’ (आईएफटीडीए) फिल्म एवं टेलीविजन उद्योग के 20 और संस्थान एक साथ मिलकर फिल्म के साथ समर्थन जताने आगे आ गए हैं।न्यूज एजेंसी IANS की रिपोर्ट के मुताबिक आईएफटीडीए ‘व्यक्तिगत रचनात्मकता’ और ‘अभिव्यक्ति की आजादी’ की सुरक्षा के लिए 15 मिनट के ‘ब्लैकआउट’ की योजना बनाई है। आईएफटीडीए के अशोक पंडित ने इस योजना की पुष्टि करते हुए एक न्यूज एजेंसी को बताया कि, “हम ‘पद्मावती’ और संजय लीला भंसाली को अपना समर्थन देना जारी रखेंगे, क्योंकि अपने तरीके से कहानी बताना एक रचनात्मक शख्स का बुनियादी अधिकार है।’

उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि संजय एक जिम्मेदार फिल्मकार हैं। इतिहास से संबंधित फिल्म बनाना आसान काम नहीं होता है बल्कि यह एक बड़ी जिम्मेदारी जैसा है। इसलिए फिल्म के लिए समर्थन दिखने के लिए फिल्म एवं टेलीविजन उद्योग के सदस्य रविवार (26 नवंबर) को 15 मिनट के ब्लैकआउट के लिए इकट्ठा होंगे। इस दौरान मुंबई में सभी शूटिंग इकाईयों की रोशनी बुझा दी जाएगी और कोई शूटिंग नहीं होगी।

एजेंसी के मुताबिक ‘मैं आजाद हूं’ नाम का यह ब्लैकआउट विरोध प्रदर्शन फिल्म सिटी के मेन गेट के पास 3.30 बजे से शुरू होगा। बता दें कि इस महीने की शुरुआत से ही आईएफटीडीए कुछ अन्य फिल्म संगठनों के साथ मिलकर ‘पद्मावती’ के समर्थन में आगे आ गई थी। पंडित ने कहा कि वे सभी जब-तब फिल्मों का विरोध करने वालों और निर्माताओं व कलाकारों को धमकाने वाली गैर-संस्थागत संस्थाओं का कड़ा विरोध करते हैं।

फिल्म का विरोध जारी

बता दें कि भारत में ‘पद्मावती’ को लेकर कुछ राजपूत संगठनों के तीखे विरोध के बाद फिल्म के निर्माता और वितरक वायकॉम 18 पिक्चर्स द्वारा फिल्म की रिलीज को ‘स्वेछा’ से स्थगित कर दिया। वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स के एक प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि, ‘पद्मावती’ की निर्माण कंपनी वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स ने अपनी पूर्वनिर्धारित तारीख 1 दिसंबर, 2017 को फिल्म की रिलीज स्थगित कर दी है।

वहीं, केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) से अभी तक फिल्म को मंजूरी नहीं मिली है। गौरतलब है कि भारत में पहले ‘पद्मावती’ को 1 दिसंबर को रिलीज किया जाना था। सीबीएफसी का कहना है कि निर्माताओं का आवेदन ‘अधूरा’ था। प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि ‘अपेक्षित मंजूरी’ मिलने के बाद फिल्म रिलीज की नई तारीख घोषित की जाएगी।

वहीं, बीजेपी शासित राज्य राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद अब विधानसभा चुनाव वाले राज्य गुजरात में भी फिल्म ‘पद्मावती’ को बैन कर दिया गया है। दरअसल, 9 अक्टूबर, 2017 को इस फिल्म के ट्रेलर के लॉन्च होने के बाद से ही कई सामाजिक, सांस्कृतिक और अन्य संगठनों ने इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है।

कुछ राजपूत संगठनों ने भंसाली पर इतिहास को तोड़-मरोड़ कर परोसने और हिंदू भावनाओं को भड़काने का आरोप लगाया है। दीपिका पादुकोण ने इस फिल्म में पद्मावती का किरदार अदा किया है, जबकि शाहिद कपूर ने महारावल रतन सिंह और रणवीर सिंह ने अलाउद्दीन खिलजी का किरदार निभाया है।

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here