चरख़ा कातने की एक्टिंग करने से कोई गांधी नहीं बन जाता, केजरीवाल, ममता और राहुल भी गरजे पीएम मोदी पर

0

2017 के कैलेंडर से महात्मा गांधी की जगह प्रधानमंत्री मोदी का फोटो लगने के बाद  मुंबई में खादी ग्रामोद्योग आयोग के कर्मचारियों ने क्रोध के साथ प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। इसी कड़ी में अब अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी और राहुल गांधी ने भी पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा है।

इस बारें में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि गांधी बनने के लिए कई जन्मों की तपस्या करनी पड़ती है। चरख़ा कातने की ऐक्टिंग करने से कोई गांधी नहीं बन जाता, बल्कि उपहास का पात्र बनता है

जबकि इस बारें में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि महात्मा गांधी राष्ट्रपिता है जबकी मोदी क्या है?

इसके बाद राहुल गांधी आॅफिस से ट्वीट किया गया कि ये मंगलयान इफैक्ट है।

समाचार एजेंसी आईएएनएस से के अनुसार, इस साल के कैलेंडर और डायरी के कवर फोटो  में मोदी एक बड़े ‘चरखा’ पर खादी बुनाई करते दिख रहे हैं बिल्कुल गांधी जी की मुद्रा में। खादी ग्रामोद्योग आयोग के आधिकारिक सूत्रों ने रविवार को इस बात की पुष्टि की।

आयोग के ज्यादातर कर्मचारी और अधिकारी उस वक्त हैरान रह गए, जब कैलेंडर के कवर पर गांधी जी की बजाय पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर दिखी। इस तस्वीर में नरेंद्र मोदी चरखा चलाते दिख रहे हैं। इससे पहले गांधी जी की भी चरखा चलाने की तस्वीर ही छपती थी।

इस मामले पर गांधी जी के पोत्र तुषार गांधी ने भी अपनी नाराज़गी जताई है जबकि शिवसेना भी पीएम मोदी की इन तस्वीरों के गांधी जी के स्थान से बदलने से खासी नाराज है। जबकि बीजेपी का इस बारें में कहना है कि ये कोई बड़ी बात नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here