सेना के पूर्व अधिकारी को हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार

0

हरियाणा पुलिस ने गुरुवार शाम 75 साल के रिटायर्ड सेना के अधिकारी को हिरासत में लिया।

रिटायर्ड विंग कमांडर सीके शर्मा की बेटी के मुताबिक पुलिस ने उन्हें उनके घर से उठा लिया।

विंग कमांडर सीके शर्मा जंतर मंतर पर वन रैंक वन पेंशन (OROP) के लिए प्रदर्शन में हिस्सा ले चुके हैं।

सीके शर्मा की बेटी ने फेसबुक पर पोस्ट करते हुए लिखा कि 75 साल के रिटायर्ड विंग कमांडर सीके शर्मा जो वन रैंक वन पेंशन के प्रदर्शन में जंतर मंतर पर काफी सक्रीय रहे उन्हें आज शाम को उनके घर से हिरासत में ले लिया गया है जबकि वह पिछले दो हफ़्तों से बीमार थे और अस्पताल में भर्ती थे।

Also Read:  मुस्लिम युवक की पुलिस हिरासत में मौत, व्हाट्सअप पर 'बीफ' पर किया था कमेंट

“पुलिस ने हमें कुछ भी बताने से मना कर दिया है और हमें मालूम भी नहीं है कि वह इस वक़्त कंहा हैं। उन्होंने अपनी रात झूठे केस की वजह से जेल में बितायी है और कल सुबह (शुक्रवार) 9 बजे उन्हें गुडगाँव के डिस्ट्रिक्ट कोर्ट पेश करा जाएगा।

Also Read:  OROP: Serving officers disappointed with Modi's I-Day speech, angry with Army chief too

“मेरे पिता ने देश के लिए दो बड़ी लड़ाईयां लड़ी हैं और उन्होंने अपनी पुरी ज़िंदगी में एक रुपया नहीं चुराया और उन्हें अब झूठे आरोप में फंसा कर जेल में रखा गया है। उन्हें डायबिटीज और ब्लड प्रेशर की बीमारी है। मैं सब लोगो से अपील करती हूँ कि कृप्या उनकी सहायता करें जिन्होंने अपनी पूरी ज़िंदगी सिर्फ विधवाओं और सेना की मदद की है। यह एक बड़ा राजनितिक कुचक्र है।”

Also Read:  Bhai...aisa hai toh gyan mat do, phenko mat! Bolo ki nahi sambhal raha hai: An Indian army officer to PM Modi on OROP

निशा ने बताया की किस तरह पांच पुलिस वाले जबरदस्ती उनके पिता के घर में घुस आए और उन्होंने उनके फ़ोन को छीन कर फेंक दिया और उन्हें उठा कर ले गए।

रिटायर्ड मेजर जनरल सतबीर सिंह जो OROP आन्दोलन की अगुवाई कर रहे हैं ने ट्वीट कर कहा कि यह पुलिस की बर्बरता है और सीके शर्मा को जल्द ही रिहा किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here