सरकार ने अंगदान की दिशा में निर्णायक पहल की: जे.पी. नड्डा

0

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा ने शुक्रवार को कहा कि सरकार ने अंगदान को बढ़ावा देने के लिए कुछ निर्णायक पहल किए हैं और सभी प्रमुख सरकारी अस्पतालों में अंग प्रत्यारोपण की सुविधा शुरू की है। नड्डा ने ये बातें यहां विज्ञान भवन में छठे भारतीय अंगदान दिवस के मौके पर कही।

उन्होंने लोगों से स्वेच्छा से अंगदान को बढ़ावा देने एवं इसमें भाग लेने की भी अपील की। नड्डा ने माना कि अंगदान मामले में सरकार की ओर से विलंब हुआ है और स्वास्थ्य मंत्रालय ने अब सरकारी अस्पतालों में अंग एवं ऊतक प्रत्यारोपण में प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है।

Also Read:  दिल्ली पुलिस ने सरकार के 'कार-फ्री डे' कार्यक्रम को नामंजूर किया

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, “हमने अस्पतालों में सहयोगी स्टाफ को अंगदान संबंधी प्रशिक्षण देने और उन्हें इस दिशा में संवेदनशील बनाने का भी फैसला लिया है, ताकि वे समाज में इस विषय को आगे बढ़ा सकें।”

Also Read:  ओडिशा सरकार की रिपोर्ट के मुताबिक 41 किसानों ने खुदकुशी की

उन्होंने कहा, “अंगदान को लेकर सरकार ने पिछले एक साल में जो निर्णय लिए हैं, उससे इस दिशा में सार्थक प्रगति होगी।”

छठे भारतीय अंगदान दिवस कार्यक्रम में कई अंग दाताओं और उनके परिवार को पुरस्कृत किया गया।

Also Read:  आसाराम की जमानत याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने किया खारिज

मंत्री ने गैर-सरकारी संगठनों और स्वयंसेवी संगठनों से इस मुद्दे पर आगे आने और स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ मिलकर काम करने की अपील की।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत में हर साल करीब दो लाख गुर्दे दान करने की जरूरत होती है, लेकिन मौजूदा समय में 7,000-8,000 से भी कम गुर्दे मिल पाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here