विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के शानदार प्रदर्शन पर राहुल गांधी के मुरीद हुए विपक्षी नेता, नेतृत्व को सराहा

0

पांच राज्य विधानसभाओं (राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम) के लिए संपन्न चुनावों में डाले गए मतों की मंगलवार (11 दिसंबर) सुबह आठ बजे से कड़ी सुरक्षा के बीच गणना जारी है। इन पांचों राज्यों के परिणामों को अगले साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव का सेमी फाइनल कहा जा रहा है। इन राज्यों के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के ‘अच्छे दिन’ आते दिख रहे हैं। राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार बनने के संकेत हैं, जबकि मध्य प्रदेश में कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर दिख रहा है।

File PHOTO: @MahilaCongress

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के शानदार प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में कई प्रमुख विपक्षी दलों के नेताओं ने मंगलवार (11 दिसंबर) को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व की सराहना की और कहा कि ‘राष्ट्रीय क्षितिज’ पर वह तेजी से उभर रहे हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन का श्रेय राहुल गांधी को देते हुए कहा कि जनता ने कांग्रेस अध्यक्ष के नेतृत्व में भरोसा जताया है।

वहीं, समाचार एजेंसी भाषा/पीटीआई के मुताबिक राजस्थान कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा, ‘‘आज के ही दिन एक साल पहले राहुल गांधी जी कांग्रेस अध्यक्ष बने थे।’’ जबकि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेता डीपी त्रिपाठी ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘देश की सबसे प्रमुख विपक्षी पार्टी के नेता के तौर पर राहुल गांधी राष्ट्रीय क्षितिज पर उभर रहे हैं।’’

राष्ट्रीय जनता दल के नेता मनोज झा ने राहुल गांधी और कांग्रेस की सराहना करते हुए कहा, ‘‘यह अवाम के सरोकारों की जीत है। आज अहंकार और सत्ता के गुरुर की हार हुई है। बीजेपी के लोग जिस तरह के अहंकार में डूबे हुए हैं और ऐसे में जनता ने संदेश दिया है कि जनसरोकार की बात करो, नहीं तो दफा हो जाओ।’’ बता दें कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के शुरुआती रुझानों के मुताबिक कांग्रेस तीनों राज्यों में सरकार बनाने की स्थिति की तरफ बढ़ रही है।

आपको बता दें कि अगल-अलग राज्यों में मतदान कई चरणों में सम्पन्न हुआ था। छत्तीसगढ़ में 18 सीटों के लिए 12 नवंबर तथा 72 सीटों के लिए 20 नवंबर को मतदान हुआ था। मध्य प्रदेश में 230 सीटों के लिए तथा मिजोरम में 40 सीटों के लिए 28 नवंबर को मतदान हुआ था। राजस्थान में 199 सीटों तथा तेलंगाना में 119 सीटों के लिए सात दिसंबर को मतदान हुआ था। इन विधानसभाओं के लिए 8,500 से ज्यादा उम्मीदवार मैदान में हैं। पांच राज्यों में कुल 678 सीटों पर मतदान हुआ था। राजस्थान की एक सीट पर एक उम्मीदवार की मौत के कारण चुनाव रद्द हो गया था।

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को 2019 में होने वाले आम चुनाव के लिहाज से सेमीफाइनल माना जा रहा है। कांग्रेस का यह कहना है कि राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम से मिलने वाला जनादेश केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ ‘‘स्पष्ट संदेश’’ देगा। बीजेपी नेताओं ने कांग्रेस को बढ़त दिखाने वाले एग्जिट पोल के परिणामों को नकार दिया है। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी चौथी बार सत्ता में आने का प्रयास कर रही है जबकि राजस्थान में उसके सामने सत्ता में काबिज रहने की चुनौती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here