विपक्ष का दावा- EVM में चुनाव चिन्ह कमल के नीचे लिखा है ‘BJP’, निर्वाचन आयोग से की शिकायत

0

कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने एक बार फिर इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को लेकर चुनाव आयोग से शिकायत की है। कांग्रेस सहित पांच विपक्षी पार्टियों ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर ईवीएम में उसके चुनाव चिह्न कमल के नीचे पार्टी का नाम लिखे होने को गंभीर साजिश करार देते हुए चुनाव आयोग में इसकी शिकायत की और पूरे प्रकरण की व्यापक जांच कराने की मांग की है।

PTI

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, विपक्ष का आरोप है कि पश्चिम बंगाल के बैरकपुर संसदीय क्षेत्र में ‘मॉक ड्रिल’ के दौरान ईवीएम पर केवल भाजपा के चुनाव चिन्ह कमल के नीचे ही पार्टी का नाम भी लिखा है। हालांकि विपक्ष के इस दावों पर चुनाव आयोग का कहना है कि पार्टी (बीजेपी) ने इसी चुनाव चिन्ह का इस्तेमाल 2014 के लोकसभा चुनाव में भी किया था। ईवीएम पर चुनाव में हिस्सा ले रहे सभी राजनीतिक दलों का चुनाव चिन्ह, उनके उम्मीदवार का नाम और उनके फोटो नजर आते हैं, हालांकि किसी पार्टी का नाम नहीं लिखा होता है।

कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ‘ईवीएम पर पार्टी के निशान के नीचे बीजेपी शब्द दिख रहा है. कोई भी पार्टी चुनाव निशान और पार्टी का नाम एक साथ इस्तेमाल नहीं कर सकतीं। तृणमूल ने आरोप लगाया था कि बैलेट पेपर पर बीजेपी के निशान ‘कमल’ के तने के नीचे दिखाई देने वाली रेखाएं टूटी हुई हैं, जो कि बैलेट पेपर पर ‘बीजेपी’ के रूप में दिख रही हैं, जिन्हें आसानी से पढ़ा जा सकता है, लेकिन सूत्रों के मुताबिक बैलेट पेपर नहीं बदला जाएंगे।

कांग्रेस के साथ ही तृणमूल कांग्रेस, तेलुगु देशम पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी तथा राष्ट्रीय जनता दल के नेताओं ने शनिवार (27 अप्रैल) को चुनाव आयोग के समक्ष यह मामला उठाया और आयोग से इस संबंध में तत्काल कार्रवाई कर गड़बड़ी पर रोक लगाने का आग्रह किया है। आयोग से मुलाकात के बाद कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी, तृणमूल कांग्रेस के नेता दिनेश त्रिवेदी तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता डीपी त्रिपाठी ने कहा कि कमल के निशान के नीचे बीजेपी लिखा हुआ है।

इस संबंध में इन नेताओं ने त्रिवेदी के चुनाव क्षेत्र के एक मतदान केंद्र से ईवीवीएम से निकली पर्ची की प्रतिछाया दिखाई जिसमें कहा गया है कि पहले बीजेपी के निशान कमल के फूल के नीचे पानी होने की संकल्पना वाला निशान होता था, लेकिन इस बार पानी की जगह बीजेपी लिखा हुआ है। उन्होंने कहा कि ईवीएम में या चुनाव मतपत्र में किसी भी चुनाव चिह्न के पास किसी भी राजनीतिक दल का नाम नहीं लिखा जा सकता है। (इनपुट- वार्ता/एचटी के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here