लोकसभा चुनाव 2019: त्रिकोणीय मुकाबले की गवाह बनेगी राजधानी दिल्ली, सभी 7 सीटों पर मतदान कल

0

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में छठे चरण के तहत कल यानी रविवार (12 मई) को मतदान होना है। यहां की सात सीटों पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। इस चुनाव में कांग्रेस अपनी खोई जमीन वापस हासिल करने की कोशिश में लगी हुई है। पार्टी 2014 के आम चुनाव में तीसरे नंबर पर रही थी। चुनाव प्रचार के दौरान फिल्मी सितारों ने जमीन पर उतरकर कांग्रेस, भाजपा और ‘आप’ के लिए वोट मांगे।

अभिनेत्री व भाजपा सांसद हेमा मालिनी और हाल ही में भाजपा का दामन थामने वाले सन्नी देओल ने जहां भाजपा के लिए प्रचार किया तो अभिनेता से राजनेता बने राज बब्बर तथा नगमा ने कांग्रेस के लिए वोट मांगे। प्रकाश राज, स्वारा भास्कार तथा गुल पनाग ने ‘आप’ के लिए प्रचार किया।

प्रचार के दौरान, मुख्यमंत्री अरविंद केरजीवाल को मोती नगर में एक शख्स ने थप्पड़ जड़ा तो ‘आप’ की पूर्वी दिल्ली की उम्मीदवार आतिशी ‘अपमानजनक पर्चे’ को लेकर संवाददाता सम्मेलन में रो पड़ी। वहीं टिकट नहीं मिलने से भाजपा के उत्तर पश्चिम दिल्ली से सांसद रहे उदित राज ने कांग्रेस का दामन थाम लिया।

दिल्ली की सात लोकसभा सीटों पर 164 प्रत्याशी अपनी किस्मत अजमा रहे हैं, जिनमें 18 महिलाएं हैं। प्रमुख उम्मीदवारों में कांग्रेस से उत्तर पूर्वी दिल्ली से भूतपूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, पूर्वी दिल्ली से पूर्व मंत्री अरविंदर सिंह लवली, नई दिल्ली से पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन और दक्षिण दिल्ली से बॉक्सर विजेंद्र सिंह शामिल हैं।

वहीं, भाजपा की ओर से प्रमुख उम्मीदवारों में चांदनी चौक से केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, पूर्वी दिल्ली से भूतपूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर, नई दिल्ली से मीनाक्षी लेखी शामिल हैं। जबकि आम आदमी पार्टी की ओर से अहम उम्मीदवारों में उत्तर पूर्वी दिल्ली से दिलीप पांडे और पूर्वी दिल्ली से आतिशी शामिल हैं।

1.43 करोड़ मतदाता करेंगे नेताओं के भाग्य का फैसला

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, सभी सात लोकसभा क्षेत्रों के 13,819 मतदान केंद्रों पर मतदान रविवार सुबह सात बजे शुरू होगा और शाम छह बजे तक जारी रहेगा। 70 में से हरेक विधानसभा क्षेत्र में एक आदर्श मतदान केंद्र है। इसमें से 17 मतदान केंद्र पर सिर्फ महिला स्टाफ होगा।

523 मतदान स्थलों की संवेदनशील के तौर पर पहचान की गई है और किसी भी तरह की अप्रिय घटना को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस, होम गार्ड और अर्द्धसैनिक बलों के 60,000 कर्मियों को तैनात किया जाएगा। 23 अप्रैल को प्रकाशित मतदाता सूची के मुताबिक, दिल्ली में 1.43 करोड़ मतदाता हैं जिनसे से 78,73,022 पुरुष और 64,42,762 महिलाएं एवं 669 तृतीय लिंगी (थर्ड जेंडर) शामिल हैं।

दिल्ली में 18-19 साल के 2,54,723 मतदाता हैं। 40,532 दिव्यांग मतदाता हैं जिन्हें घर से मतदान केंद्र लाने और फिर घर तक छोड़ने की सुविधा मिलेगी। चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर राजनीतिक पार्टियों और अन्य के खिलाफ करीब 270 प्राथमिकियां और शिकायतें दर्ज की गई हैं। (इनपुट- भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here