ओमपुरी की मौत को माना संदिग्ध, बदला गया था शराब का गिलास, पुलिस ने जांच की शुरू

0

ओम पुरी की संदिग्ध हालात में हुई मौत और पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सिर में जख्म के निशान मिलने के बाद मुंबई पुलिस ने जांच तेज कर दी है। शनिवार को ओम पुरी के ड्राइवर राम प्रमोद मिश्रा और प्रोड्यूसर खालिद किदवई से तीन घंटे आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई।

ओमपुरी

सूत्रों की मानें तो ओम पुरी की न्यूड डेड बॉडी उनके घर के किचन के नजदीक मिली थी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में भी साफ हो गया है कि पुरी के सिर के गहरा जख्म आया था।

दैनिक भास्कर से बातचीत करते हुए किदवई ने बताया कि वे नंदिता (पत्नी) के घर गए। यहां वो बेटे ईशान से मिलने आए थे। नंदिता से उनकी काफी बहस हुई। नीचे उतरकर उन्होंने ईशान को फोन किया, लेकिन वो किसी पार्टी में था। फिर वो गाड़ी में ही उसका इंतजार करने लगे। इस बीच उन्होंने काफी ड्रिंक भी लिया।

किदवई के मुताबिक, इसके बाद वो मुझे लेकर मनोज पाहवा (एक्टर) के घर भी गए थे। वहां भी उनकी किसी से पैसों को लेकर बहस हुई। चूंकि मैं बाहर था, इसलिए ये नहीं पता कि बहस किससे हुई।

बाहर आए तो काफी भावुक थे। इसके बाद मैंने उन्हें घर छोड़ा। रास्ते में मैंने देखा तो उनका पर्स मेरी कार में गिर गया था। पर्स देने के लिए सुबह उनके ड्राइवर (मिश्रा) को फोन किया तो उसने बताया कि वो दरवाजा नहीं खोल रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस सूत्रों ने बताया कि नंदिता से झगड़े के दौरान ओम पुरी का वो गिलास बदल गया था, जिसमें वे शराब पी रहे थे। प्रोड्यूसर खालिद किदवई ने पुलिस से कहा कि ओम पुरी जब नंदिता से मिलने गए तो उनके हाथ में स्टील का गिलास था।

वे जब वापस लौटे तो उनके हाथ में शीशे का गिलास था और शराब भी बदली हुई थी। पुलिस ने बताया, “बिल्डिंग के सीसीटीवी फुटेज से भी गिलास बदलने की पुष्टि हुई है। इसके अलावा वहां मौजूद गार्ड ने भी बताया कि पहले ओम पुरी के हाथ में स्टील का गिलास था।’

ओशिवारा थाने के सीनियर इंस्पेक्टर सुभाष खानविलकर ने कहा, हम हर एंगल से जांच कर रहे हैं। पुरी जिस बिल्डिंग में रहते थे, वहां का विजिटर्स रजिस्टर और सीसीटीवी जब्त किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here