UP: स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रगान नहीं गाने वाले मदरसों पर NSA के तहत हो सकती है कार्रवाई

0

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा राज्य के सभी मदरसों में स्वतंत्रता दिवस(15 अगस्त) के दिन राष्ट्रगान गाने और तिरंगा फहराए जाने की वीडियोग्राफी करने के आदेश का पालन नहीं किया है उनके खिलाफ रासुका के तहत शख्त कार्रवाई हो सकती है।

(PTI)

जी हां, बरेली के कमिश्नर (मंडलायुक्त) पी वी जगमोहन ने गुरुवार(17 अगस्त) कहा कि स्वतंत्रता दिवस के दिन झंडा फहराये जाने के आदेश को जिसने नहीं माना होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि आदेश नहीं मानने वालों के खिलाफ नेशनल सिक्योरिटी एक्ट (एनएसए) भी लगाया जा सकता है।

न्यूज एजेंसी भाषा से मंडलायुक्त ने कहा कि अगर किसी मदरसे के बारे में ऐसी शिकायत मिली कि उसने सरकार का आदेश न मानते हुए झंडा नहीं फहराया होगा और राष्ट्रगान नहीं गाया होगा तो इसकी जांच होगी और जो दोषी होगा उसके खिलाफ कानून के दायरे में कार्रवाई होगी।

उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अधिकारियों को कहा गया है कि वह तुरंत उन मदरसों की सूची सौंपे जहां राष्ट्रगान नहीं गाया गया। इस मामले में अगर जनता की तरफ से कोई शिकायत मिली तो उसकी भी जांच की जाएगी। इससे पहले कमिश्नर ने बुधवार(16 अगस्त) को न्यूज एजेंसी ANI से भी यह बात कह चुके हैं।

क्या है मामला?

दरअसल, उत्तर प्रदेश मदरसा परिषद बोर्ड की ओर से इसी महीने तीन अगस्त को जिला अल्पसंख्यक अधिकारी को एक पत्र भेज कर निर्देश दिया गया था कि राज्य के सभी मदरसों में 15 अगस्त को सुबह आठ बजे झंडारोहण एवं राष्ट्रगान होगा। जबकि 8.10 मिनट पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को श्रद्धांजलि दी जाए।

साथ ही इन मदरसों में उपरोक्त आदेशों का पालन हुआ कि नहीं इसके सबूत के तौर पर सभी कार्यक्रमों की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी कराकर जिले के अल्पसंख्यक अधिकारी को सौंपने का भी फरमान जारी किया गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूपी के ज्यादातर मदरसों ने सरकार के आदेश का पालन किया है। लेकिन कथित तौर पर बरेली शहर के काजी के मदरसे में राष्ट्रगान न गाए जाने का फरमान जारी हुआ था। अगर यह आरोप सही साबित होता है उनके खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई हो सकती है।

 

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here