विराट कोहली पर टिप्पणी को लेकर पाकिस्तान के इंजमाम उल हक ने एंडरसन को लिया आड़े हाथ

0

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की बल्लेबाजी तकनीक को लेकर टिप्पणी क्या कर दी कि विराट के फैन्स सहित कई पूर्व खिलाड़ी भी उनके पीछे पड़ गए हैं और एंडरसन को आड़े हाथों लेना शुरू कर दिया है।

अब भारत के धुरविरोधी पाकिस्तान के मुख्य चयनकर्ता और पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने भी विराट कोहली की तकनीक को लेकर निंदनीय टिप्पणी करने पर जेम्स एंडरसन की आलोचना की है।

उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के तेज गेंदबाज को भारतीय कप्तान की क्षमता पर अंगुली उठाने से पहले भारत में विकेट लेने चाहिए. इंजमाम से पहले टीम इंडिया के स्टार ऑफ स्पिनर अश्विन तो मैदान पर ही एंडरसन से भिड़गए थे।

विराट कोहली

एंडरसन ने हाल ही में कहा था कि भारतीय पिचों में उछाल नहीं होने के कारण मौजूदा टेस्ट सीरीज में कोहली की तकनीकी कमियां उजागर नहीं हो सकी हैं।

 इंजमाम ने सोमवार रात को जियो सुपर स्पोर्ट्स चैनल पर कहा, ‘‘मैं हैरान हूं कि एंडरसन ने कोहली के रनों और क्षमता पर अंगुली उठाई, क्योंकि मैंने उन्हें भारत में ज्यादा विकेट लेते नहीं देखा।
उन्होंने कहा, ‘‘क्या एंडरसन यह कहना चाहते हैं कि यदि आप इंग्लैंड में रन बनाते हैं तो ही आप पर अच्छे बल्लेबाज होने का ठप्पा लगेगा।

क्या इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को उपमहाद्वीप में परेशानी नहीं आती. क्या इसके मायने हैं कि वे खराब खिलाड़ी या कमजोर टीमें हैं। मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि रन कहां बने हैं क्योंकि टेस्ट मैचों में रन तो रन होते हैं।

भाषा की खबर के अनुसार, इंजमाम ने कहा, ‘‘मैं बल्लेबाज का आकलन इससे करता हूं कि उसने कितनी बार रन बनाकर टीम को मैच जिताया है। यदि बल्लेबाज के 80 रन से टीम जीतती है तो मेरे लिए वह 150 रन से बढ़कर हैं।

इंजमाम ने कहा, ‘‘कोहली बेहतरीन खिलाड़ी हैं और जब वह रन बनाते हैं तो उनकी टीम अच्छा खेलती है. यही उम्दा बल्लेबाज की निशानी है. उसमें रनों की भूख है।

उन्होंने कहाकि एशियाई लोगों को अपनी ही टीम और खिलाड़ियों पर सवाल उठाने की आदत है जबकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया हमेशा अपने क्रिकेटरों का साथ देते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘यदि वे अच्छा नहीं खेलते तो हम अपनी टीमों और खिलाड़ियों पर खुद अंगुली उठाते हैं. हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि ऑस्ट्रेलिया तो श्रीलंका में हारा और हमने यूएई में इंग्लैंड का सफाया किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here