तबलीगी जमात के मरकज में शामिल होकर छिपे लोगों को ‘गोली मारने’ में कोई हर्ज नहीं: कर्नाटक BJP विधायक

0

कर्नाटक में भाजपा के एक विधायक ने मंगलवार को आरोप लगाया कि दिल्ली में तबलीगी जमात कार्यक्रम में शामिल होने वालों में से कुछ लोग सरकार की अपील के बाद भी जानबूझकर कोरोना वायरस की जांच ना कराने के लिए छिपे हुए हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को गोली मारना ‘गलत नहीं’ होगा।

तबलीगी जमात

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के राजनीतिक सचिव और विधायक एम पी रेणुकाचार्य ने कहा, कुछ लोगों की गलती के लिए पूरे समुदाय को दोष देना गलत है। उन्होंने कहा, ‘‘एक बात सच है प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के बार-बार अपील करने के बाद भी उनमें से कुछ लोग जानबूझकर धार्मिक कारणों का हवाला देते हुए छिपने की कोशिश कर रहे हैं।’’

दावणगेरे में पत्रकारों से बात करते हुए भाजपा विधायक ने कहा कि ऐसा लगता है कि वे खुद तो मर रहे हैं, दूसरों को भी मारना चाहते हैं। यदि वे तबलीगी जमात कार्यक्रम में भाग लेने के बाद वापस लौटते ही डॉक्टर के पास चले जाते तो कोई समस्या नहीं होती।

इस बीच, कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा ने सोमवार को एक समाचार चैनल को साक्षात्कार के दौरान इन घटनाओं के लिए पूरे मुस्लिम समुदाय को दोषी ठहराने वालों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी थी। एक स्थानीय टीवी चैनल से बात करते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि, “किसी को भी मुसलमानों के खिलाफ एक शब्द नहीं बोलना चाहिए। यह एक चेतावनी है। अगर कोई किसी अलग घटना के लिए पूरे मुस्लिम समुदाय को दोषी ठहराता है, तो मैं उनके खिलाफ भी एक दूसरे विचार के बिना कार्रवाई करूंगा। उसके लिए अवसर नहीं देंगे।”

गौरतलब है कि, निजामुद्दीन के तबलीगी जमात के मरकज में शामिल हुए लोगों के कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट देशभर से आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। राज्य सरकार की तरफ से तबलीग जमात के मरकज में शामिल लोगों से बाहर आकर क्वारंटाइन में आने की अपील की जा रही है। इसके बाजवूद कई ऐसे लोग है जो जमात के कार्यक्रम में शामिल होने के बावजूद सामने आकर नहीं बता रहे हैं। ऐसे में सरकार को इस बात का डर है कि कहीं वे कोरोना पॉजिटिव जमात के लोग दूसरों को कोरोना संक्रमित न कर दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here