VIDEO: दलित युवक से शादी के बाद बेटी का वीडियो वायरल होने पर BJP विधायक राजेश मिश्रा बोले- ‘मैंने नहीं दी धमकी’

0

भारतीज जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक राजेश मिश्रा ने सफाई दी है कि उन्हे अपनी पुत्री के प्रेम विवाह से कोई एतराज नहीं है और बालिग होने के नाते उसे अपने फैसले खुद लेने का अधिकार है। बता दें कि उत्तर प्रदेश में बरेली जिले की चैनपुर सीट से भाजपा विधायक राजेश मिश्रा की पुत्री साक्षी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसमें उसने अपने पिता से जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई है।

इस मामले के तूल पकड़ने के बाद भाजपा विधायक ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘‘मेरे खिलाफ मीडिया में जो चल रहा है यह सब गलत है बेटी बालिग है, उसको निर्णय लेने का अधिकार है, मैंने किसी को कोई जान से मारने की धमकी नहीं दी है, न ही मेरे किसी आदमी ने दी है, न ही मेरे परिवार के किसी व्यक्ति ने दी है। मैं व मेरा परिवार अपने काम में व्यस्त हैं, मैं अपनी विधानसभा में जनता का कार्य कर रहा हूं व पार्टी (भाजपा) का सदस्यता चला रहा हूं। मेरी तरफ से किसी कोई खतरा नहीं है।’’

दंपति ने पुलिस से लगाई मदद की गुहार

दरअसल, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक विधायक की बेटी ने वीडियो जारी कर पुलिस से गुहार लगाते हुए कहा है कि उसे और उसके पति को पिता से जान का खतरा है, इसलिए उन्हें सुरक्षा प्रदान की जाए। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो (जनता का रिपोर्टर वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता) में का आरोप है कि उसने एक दलित युवक से लव मैरिज की है। इसलिए उसके पिता और उनके समर्थक उसके पीछे पड़े हुए हैं। यही नहीं पति के परिवार को भी धमका रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले की बिथरी चैनपुर सीट से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी ने दलित युवक अजितेश कुमार के साथ वैदिक हिंदू रीति रिवाज से शादी की। जिसके बाद इसका वीडियो बुधवार को सोशल मीडिया पर वायरल किया। उसके बाद जारी एक अन्य वीडियो में उसने बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई कि उसे उसके पिता और विधायक राजेश मिश्रा, भाई विक्की और पिता के एक सहयोगी से जान का खतरा है। ऐसे में उसे और उसके पति को सुरक्षा दी जाए।

‘पति की हत्या होने का शक’

विधायक की बेटी ने आरोप लगाया कि ये सभी लोग मिलकर उसकी और उसके पति की हत्या करना चाहते हैं। साक्षी ने बरेली के सांसद, विधायकों और मंत्रियों से अपील की है कि वे उसके पिता, भाई और पिता के सहयोगी की मदद न करें।साक्षी ने वायरल वीडियो के माध्यम से अपने पिता से कहा है कि उसे चैन से रहने दिया जाए और वह चैन से राजनीति करें। साक्षी ने यह भी धमकी दी है कि यदि उसकी और पति की हत्या की गई तो वह उन्हें भी फंसा देगी।

इस बारे में पुलिस उपाधीक्षक आर के पांडेय ने कहा कि दंपति ने अभी तक यह सूचित नहीं किया है कि उनका पता ठिकाना कहां है। फिलहाल पुलिस दंपति का पता लगाकर उन्हे सुरक्षा मुहैया कराएगी। एसएसपी ने कहा कि हमने सोशल मीडिया पर युगल द्वारा पोस्ट किए गए वीडियो को देखा है। यदि वे हमें सुरक्षा मांगते हुए लिखते हैं, तो हम निश्चित रूप से उन्हें प्रदान करेंगे।

इसके अलावा इस मामले में बरेली के डीआईजी आरके पांडेय ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि साक्षी मिश्रा की दलित युवक अजितेश कुमार से विवाह की सूचना वायरल वीडियो से मिली है। पांडेय ने बताया कि यह मामला संज्ञान में आने पर उन्होंने बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया है कि साक्षी और अजितेश को सुरक्षा दी जाए। उन्होंने बताया कि दंपति ने अभी तक यह सूचित नहीं किया है कि उनका पता ठिकाना कहां है। उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस कहां भेजी जाए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here