EXCLUSIVE: नोएडा मर्डर केस में पुलिस का सनसनीखेज दावा, फिल्म ‘धड़क’ की तरह रियल लाइफ में हत्याकांड़ को दिया अंजाम

0

देश का राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में हुए एक मर्डर केस में पुलिस ने ‘जनता का रिपोर्टर’ से बात करते हुए सनसनीखेज खुलासा किया है, जिसे जानकर आप भी चौंक जाएंगे। इस हत्याकांड़ को बॉलीवुड फिल्म ‘धड़क’ की तरह रियल लाइफ में अंजाम दिया गया। वहीं, पुलिस ने मृतक की पत्नी की शिकायत और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद तीन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

नोएडा

जानिए क्या है पूरा मामला

दरअसल, नोएडा के सेक्टर-93 में रहने वाले संतोष राघव (28) की शनिवार रात हत्या कर शव चुनरी से लटका दिया गया। घर वाले घटना को आत्महत्या समझकर शव का अंतिम संस्कार करने के लिए बुलंदशहर ले गए। इसी बीच, उसकी 4 वर्षीय बेटी ने इस मामले में सनसनीखेज खुलासा किया। जैसे ही इसकी जानकारी नोएडा पुलिस को लगी तो उन्होंने बुलंदशहर टीम भेजकर शव का अंतिम संस्कार होने से रुकवा दिया।

बता दें कि मृतक संतोष बतौर इलेक्ट्रिशियन काम करता था, जबकि मंजू नोएडा के फेज 2 की एक सिलाई कंपनी में काम करने लगी। उसके दो बच्चों थे जिनमें एक बेटी (4) और दूसरा 2 वर्ष का बेटा है। वहीं, पुलिस ने बताया कि इनकी शादी करीब 7 साल पहले हुई थी, दोनों ने लव-विवाह किया था।

4 वर्षीय बेटी ने किया खुलासा

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, शनिवार रात को संतोष अपने किराए के मकान की छत पर लटका हुआ पाया गया था। इस बात की जानकारी करीब 8.30 बजे मिली जब उनकी पत्नी घर लौटीं। संतोष के परिजनों ने बताया कि रविवार सुबह जब वो अंतिम संस्कार के लिए बुलंदशहर जा रहे थे तब उनकी चार वर्षीय बेटी ने घरवालों को बताया कि पापा मरे नहीं हैं, उन्हें मारा गया है। बेटी ने बताया कि, शनिवार रात को दो लोग घर पर आए थे और उन्होंने पिता संतोष को शराब पिलाई और उसके बाद उन पर हमला कर दिया। ये देखकर लड़की डर गई और बेड के नीचे दुबक गई और सो गई।

पुलिस ने रुकवाया शव का अंतिम संस्कार

जैसे ही इसकी जानकारी नोएडा पुलिस को लगी तो उन्होंने बुलंदशहर टीम भेजकर शव का अंतिम संस्कार होने से रुकवा दिया। जिसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौप दिया गया और शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा

नोएडा फेज-2 पुलिस स्टेशन के SHO आजाद सिंह तोमर ने ‘जनता का रिपोर्टर’ से बात करते हुए कहा कि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या बताया गया है और अब शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। इस मामले में मृतक की पत्नी की तरफ से सात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया गया है। महिला ने अपनी माता, पिता, 3 भाई, और दो अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है।

तोमर ने आगे बताया कि, मृतक ने करीब सात साल पहले महिला से लव-विवाह किया था, जो लड़की के घर वालों को मंजूर नहीं था। घटना के बाद धमकी से डरकर दोनों अलग-अलग जगहों पर किराए पर रहते थे। मृतक की पत्नी ने हत्या के पीछे इन लोगों के हाथ की आशंका जताई है। इस मामले में अभी तक तीन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। शिकायत में दो अज्ञात लोग भी है जिनकी पहचान नहीं हो पाई है। फिलहाल, पुलिस इस मामले में जांच कर रहीं है और जो भी आरोपी पाएं जाएंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here