नोएडा पुलिस ने लिफ्ट लेकर बलात्कार का झूठा आरोप लगाकर ब्लैकमेल करने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश, 4 पुलिसकर्मी और 2 महिला सहित कुल 15 लोग गिरफ्तार

0

देश की राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जिसे जानकर आप भी चौंक जाएंगे। दरअसल, नोएडा की सेक्टर-44 चौकी प्रभारी पुलिसकर्मियों व अन्य लोगों के साथ मिलकर अपने इलाके में हनी ट्रैप का धंधा चला रहा था। इस गिरोह में शामिल महिलाएं पहले किसी कार में लिफ्ट लेकर कुछ दूर तक जाती थीं और आगे दुष्कर्म का आरोप लगाकर पुलिस व अन्य आरोपियों के साथ मिलकर कार मालिक से पैसे की उगाही की जाती थी। पुलिस ने इस गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए चार पुलिस अधिकारियों समेत 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। इनके पास से 50 हजार रुपये व तीन कारें बरामद की गई हैं।

नोएडा पुलिस

नोएडा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने व्यक्तियों से कई शिकायतें प्राप्त करने के बाद एक जाल बिछाया, इसमें सिपाही रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़े गए। योजना के अनुसार, इस गिरोह में शामिल महिलाएं रात के 9 बजे से 11 बजे के बीच कार सवारों से लिफ्ट के बहाने सवार होती थीं, कुछ दूरी तय करने के बाद सूनसान रास्ते में उतरती थीं, जहां पीसीआर पुलिस पहले से खड़ी रहती थी। महिलाएं कार सवार पर रेप का आरोप लगाकर ब्लैकमेलिंग करती थीं, जिसमें स्थानिय पुलिस उनका पूरा सहयोग देती थी।

नोएडा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने बताया कि तीन-चार दिन पहले पुलिस को शिकायत मिली थी कि इलाके में एक गैंग संचालित है, जो पुलिस अधिकारियों की मदद से चलता है। इस गैंग में शामिल लड़की कार सवारों को निशाना बनाती थी। यह लड़की पहले कार चालकों से लिफ्ट लेती है, फिर सेक्टर-44 पुलिस चौकी के आसपास किसी ऐसी सुनसान जगह में उतरती है, जहां पीसीआर वैन खड़ी होती है। लड़की उतरने के बाद वह लड़की पीसीआर वैन में पुलिसकर्मियों से शिकायत करती थी कि उसके साथ रेप हुआ है।

इसके बाद पीसीआर में तैनात पुलिसकर्मी उस लड़की और कार चालक को चौकी पर लेकर आते थे। यहां लड़की पक्ष की तरफ से कुछ लोग आते थे। बाद में चौकी इंचार्ज कार चालक को मोटी रकम देकर मामले से पल्ला छुड़ाने की बात कहता था और रकम वसूल करता था। कृष्णा ने मीडिया को गिरोह के बारे में विस्तार से बताया कि कैसे उसने अपने ही विभाग के लोगों को गिरफ्तार करने के लिए कैसे एक जाल बिछाया।

गिरफ्तार लोगों में सेक्टर -44 के चौकी प्रभारी सुनील शर्मा, तीन पुलिसकर्मी और पीसीआर वैन के कई ड्राइवर शामिल हैं। पुलिस ने गिरफ्तार व्यक्तियों को आईपीसी की कई धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है और उनके खिलाफ धोखाधड़ी और जबरन वसूली के आरोप लगाए हैं। पुलिस ने इनके पास से 50 हजार रुपये व तीन कारें बरामद की हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here