पर्रिकर ने कहा- गोवा में नहीं होने देंगे ‘बीफ’ की कमी, यूजर्स बोले- ‘गऊ आतंकियों की टीम गोवा कब जाएगी?’

0

देश भर में बीफ पर जारी घमासान के बीच गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने एक ऐसा बयान दिया है, जिसे लेकर घमासान शुरू हो गया है। पर्रिकर ने मंगलवार(18 जुलाई) को गोवा विधानसभा में कहा कि वो राज्य में बीफ की कमी नहीं होने देंगे और इससे निपटने के लिए सरकार ने कर्नाटक से इसे आयात करने का विकल्प खुला रखा है।

(Gurinder Osan/HT PHOTO)

बीफ पर बयान देते हुए पर्रिकर ने विधानसभा में कहा कि, ‘हमने (कर्नाटक में) बेलगाम से मांस आयात करने का विकल्प बंद नहीं किया है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि यहां कोई कमी नहीं हो।’ साथ ही उन्होंने कहा, ‘मैं आपको भरोसा दे सकता हूं कि पड़ोसी राज्य से आने वाले बीफ की जांच उचित तरीके से और अधिकृत चिकित्सक द्वारा की जाएगी।’

पर्रिकर ने आगे कहा कि यहां से करीब 40 किलोमीटर दूर पोंडा स्थित गोवा मीट कांप्लेक्स में राज्य के एकमात्र वैध बूचड़खाने में रोजाना लगभग 2,000 किलोग्राम बीफ तैयार होता है। साथ ही सीएम पर्रिकर ने कहा, ‘बाकी के बीफ की आपूर्ति कनार्टक से होती है। सरकार की गोवा मीट कांप्लेक्स में वध के लिए पड़ोसी राज्यों से जानवरों को लाए जाने पर रोक लगाने की कोई मंशा नहीं है।’

वहीं, पर्रिकर के इस बयान पर कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला ने हास्यजनक बताते हुए चुटकी ली है। शुक्ला ने कहा, “गोवा के बीजेपी सीएम कह रहे हैं कि वो राज्य में बीफ की कमी नहीं होने देंगे। यह अत्यधिक हास्यजनक है।” बता दें कि गोवा के पर्यटन वाले इलाकों में और अल्पसंख्यक समुदाय में बीफ खाया जाता है, जो राज्य की कुल आबादी में से 30 प्रतिशत से ज्यादा हैं।

सोशल मीडिया पर घमासान

पर्रिकर ने बयान से सोशल मीडिया पर भूचाल आ गया है। एक यूजर ने लिखा, ‘बीफ खाने और लोगो को बीफ खाने के लिए प्रेरित करने वाले पर्रिकर भाजपा और आरएसएस के दुलारे राजनेता हैं, कोई बताएगा गोवा भारत में ही है?’ एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘गोवा के मुख्यमंत्री और सच्चे स्वयंसेवक मनोहर पर्रिकर ने बताया कि राज्य में रोजाना 2000 किलो बीफ कटता है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here