नीतीश को पीएम मटीरीअल बताना सुशील मोदी को पड़ा भारी

0

बिहार से आठ बार विधानसभा चुनाव हार चुके गोपाल नारायण सिंह को बीजेपी द्वारा राज्य सभा भेजने के फैसले ने सबको चौका दिया है। क्योंकि बिहार से बीजेपी के सबसे कद्दावर नेता सुशील मोदी का राज्य सभा जाना तय माना जा रहा था।

गोपाल नारायण सिंह को राज्यसभा टिकट से साफ संदेश गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह फिलहाल सुशील मोदी को लेकर गंभीर नहीं है। गौरतलब है कि एक वक़्त जेडीयू के साथ बिहार की सत्ता में शामिल सुशील मोदी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पीएम मटीरीअल कहा था।

Also Read:  एबीवीपी के कार्यकताओं ने केजरीवाल पर बीकानेर में फेंकी काली स्याही

एनडीटीवी इंडिया के मुताबिक बिहार चुनाव में केंद्रीय नेतृत्व ने चुनाव की कमान संभाली थी और बिहार के नेताओं की सलाह को नज़अंदाज किया था।

जिसकी वजह से महागठबंधन को जीत मिली। इसमें सच्चाई हो सकती है लेकिन अमित शाह और उनके समर्थकों को लगा कि जानबूझकर उनके ऊपर ठीकरा फोड़ा जा रहा है और हर जीत का श्रेय लेने वाली टीम अमित शाह फिलहाल हार की जिम्मेदारी से दूर रहना चाहती है। यह बात अलग है कि सुशील मोदी के बिना बिहार की राजनीति बीजेपी के लिए फिलहाल टेढ़ी डगर है।

Also Read:  गो रक्षक दलों पर प्रतिबंध लगाने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और छह राज्यों से मांगा जवाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here