‘बिहार में NRC का कोई सवाल ही नहीं है’, विधानसभा में बोले सीएम नीतीश कुमार

0

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एनआरसी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। विधानसभा में सीएम नीतीश कुमार ने एक बार फिर दावा किया कि बिहार में एनआरसी लागू होने का कोई सवाल ही नहीं है।

बिहार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा में कहा कि, “नागरिकता कानून को लेकर बहस होनी चाहिए और बिहार में एनआरसी लागू होने का कोई सवाल ही नहीं है, यह सिर्फ असम के संदर्भ में था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस पर सफाई दी है।” बता दे कि, सीएम नीतीश कुमार एनआरसी को लेकर पहले भी बयान दे चुके हैं।

बता दें कि, नागरिकता कानून के खिलाफ जेडीयू में ही दो फाड़ की स्थिति तब बन गई जब पार्टी लाइन से इतर उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने बयान दिया। प्रशांत किशोर ने रविवार को भी सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की तारीफ की।

प्रशांत किशोर ने रविवार (12 जनवरी) को ट्वीट कर कहा, ‘मैं सीएए-एनआरसी के औपचारिक और अप्रतिम अस्वीकृति के लिए कांग्रेस नेतृत्व को धन्यवाद देने के लिए अपनी आवाज सम्मिलित करता हूं। खासकर इसे लेकर विशेष पहल के लिए राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को विशेष धन्यवाद देता हूं।’ इसके साथ ही प्रशांत ने अपने ट्वीट में आगे लिखा, ‘मैं सभी को आश्वस्त करता हूं कि बिहार में इसे लागू नहीं किया जाएगा।’

गौरतलब है कि, नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाईटेड ने नागरिकता संशोधन विधेयक का संसद में समर्थन किया था, जिसके बाद से प्रमुख विपक्षी दल राजद लगातार उनके ऊपर हमलावर है। वहीं, इसको लेकर पार्टी के अंदर भी विरोध के स्वर उठ रहे हैं। जेडीयू उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर, महासचिव पवन शर्मा और गुलाम रसूल बलियाबी ने इस बिल का विरोध किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here