बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराब पर राष्ट्रव्यापी प्रतिबंध लगाने की वकालत की

0
>

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने देशव्यापी शराबबंदी की वकालत करते हुए शुक्रवार को मध्यप्रदेश के बड़वानी में शराबबंदी रैली का शुभारंभ किया।

नर्मदा बचाओ आंदोलन (एनबीए) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुमार ने कहा, ‘शराब पर राष्ट्रव्यापी प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए. इसके साथ ही मध्यप्रदेश को मद्य प्रदेश बनने से रोकना चाहिए.’

Also Read:  Bihar elections: 53.20% polling in 3rd phase

उन्होंने कहा, ‘मैं यहां जल, जंगल और जमीन के लिए आपको समर्थन देने आया हूं. यहां की जमीन बहुत उपजाऊ है. यहां की सघन खेती और मेहनती लोगों को देखकर मैं खुश हूं.’

भाषा की खबर अनुसार, जनता दल (यूनाटेड) के अध्यक्ष ने कहा कि हम धरती पर पर्यावरण के साथ छेड़छाड़ न करें. यह गुनाह है. कोई भी बांध, बैराज बनाए तो पर्यावरण का ध्यान रखा जाना चाहिए. सभी का समुचित पुनर्वास किया जाना चाहिए ताकि विस्थापित अपना परिवार पाल सकें.

Also Read:  I accept Nitishji's invitation, will go to Bihar: Arvind Kejriwal

उन्होंने कहा, ‘मैं पटना से यहां नर्मदा किनारे आपके आंदोलन को समर्थन देने आया हूं.’ एनबीए इस इलाके में नर्मदा पर बांध बनाए जाने को लेकर लम्बे समय से विरोध कर रहा है तथा बांध विस्थापितों को उचित मुआवजा नहीं मिलने को लेकर एनबीए ने मप्र हाईकोर्ट में आरोप लगाया है.

 नीतीश कुमार ने शुक्रवार को बड़वानी में नशा मुक्त भारत अभियान के तहत नशाबंदी रैली का शुभारंभ किया. यह रैली प्रदेश के 25 जिलों से होती हुई 28 सितम्बर को कटनी में समाप्त होगी.

Also Read:  अर्नब गोस्वामी ने अपने नए चैनल की घोषणा, नाम होगा 'रिपब्लिक', उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले कर सकते हैं लांच

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here