पूर्व DGP के आपत्तिजनक बयान पर निर्भया की मां ने दिया करारा जवाब

0

एक समारोह में कर्नाटक के पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान ने दिल्ली गैंगरेप की शिकार निर्भया और उसकी मां आशा देवी पर आपत्तिजनक बयान दिया। जिसके बाद अपने बयान को लेकर वो विवादों में आ गए। वहीं, दूसरी ओर अब निर्भया की मां ने पलटवार करते हुए उन्हें करारा जवाब दिया है।

file photo- Nedrick News

नवभारत टाइम्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व डीजीपी एच.टी. सांगलियान ने कहा था कि वह निर्भया की मां की फिजिक देखकर यह अंदाजा लगा सकते हैं कि निर्भया कितनी खूबसूरत रही होगी। पूर्व डीजीपी के इस बयान पर समारोह में मौजूद लोग सकते में आ गए। महिलाओं को उनके कार्य के लिए सम्मानित करने वाले एक अवॉर्ड समारोह में पूर्व डीजीपी ने सुरक्षा को लेकर भी हैरान करने वाले टिप्स दिए।

रिपोर्ट के मुताबिक, सांगलियान ने कहा कि, ‘मैं निर्भया की मां को देखता हूं, उनकी फिजिक बहुत अच्छी है। मैं केवल अंदाजा लगा सकता हूं कि निर्भया कितनी खूबसूरत रही होगी।’ पुलिस के पूर्व अधिकारी ने कथित रूप से आगे कहा कि, ‘अगर आपको किसी ने काबू में कर लिया है तो ऐसी हालत में आपको समर्पण कर देना चाहिए, इसके बाद आपको केस को फॉलो करना चाहिए। इस तरह से हम सुरक्षित हो सकते हैं और अपना जीवन बचा सकते हैं।’

बता दें कि, पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान ने ये बयान महिला सशक्तिकरण के लिए काम करने वाली महिलाओं को ‘निर्भया अवॉर्ड’ से सम्मानित करने के दौरान कही। पूर्व डीजीपी के इस बयान के मीडिया में आने के बाद उन्हें तमाम आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा।

इस कार्यक्रम में बेंगलुरु की जानी-मानी आईपीएस डी रूपा भी मौजूद थीं। इस कार्यक्रम से जुड़ी तस्वीरें आईपीएस डी. रूपा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर भी की हैं, लेकिन उन्होंने पूर्व डीजी की घृणित टिप्पणियों पर आक्रोश व्यक्त नहीं किया।

बाद में, जब एक यूजर्स ने ट्विटर पर उससे पूछा कि क्या वह निर्भया की मां के लिएसांगलियान की टिप्पणी के साथ सहमत हैं, तो इस पर रूपा ने लिखा कि, धरती पर कोई भी उनके बयान से सहमत नहीं होगा।

ख़बरों के मुताबिक, इस कार्यक्रम में मौजूद ऐक्टिविस्ट अनिता चेरिया ने कहा कि वह डीजीपी के बयान को सुनकर हैरान रह गईं। वह कार्यक्रम को छोड़कर जाना चाह रही थीं, लेकिन निर्भया के माता-पिता का आदर करते हुए उन्होंने ऐसा नहीं किया।

पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान के आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद अब निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि, बेहतर होता अगर उन्होंने निजी टिप्पणी की जगह हमारी लड़ाई और संघर्ष के बारे में कहा होता। यह दिखाता है कि हमारे समाज में आज भी लोगों की मानसिकता और सोच नहीं बदली है।

वहीं, अपने आपत्तिजनक बयान पर सफाई देते हुए पूर्व डीजीपी ने कहा कि लोग उनकी बात का बेवजह मुद्दा बना रहे हैं। हालांकि वो अब भी अपने बयान पर बने हुए हैं। उन्होने कहा कि, मैंने कहा था कि निर्भया की मां का बहुत अच्छा फिजिक है और निर्भया भी सुंदर रही होगी। यह बयान सिर्फ महिलाओं की कोमलता और किसी सुंदर व्यक्ति के बारे में बताना था।

बता दें कि, साल 2012 में 16 दिसंबर की रात को 23 वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा के साथ दक्षिण दिल्ली में एक चलती बस में जघन्य तरीके से सामूहिक दुष्कर्म किया गया था और उसे उसके एक दोस्त के साथ बस से बाहर फेंक दिया गया था। इस हैवानियत के चलते उसी साल 29 दिसंबर को सिंगापुर के एक अस्पताल में छात्रा ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। बता दें कि, इस घटना के बाद रेप को लेकर कानून पर जमकर चर्चा हुई। चर्चा के बाद कानून में बदलाव भी किये गए।

पुलिस ने इस वारदात में शामिल बस चालक रामसिंह, परिचालक मुकेश कुमार व अक्षय कुमार उर्फ अक्षय ठाकुर, उनके साथियों पवन कुमार और विनय शर्मा को गिरफ्तार किया था। मामले में पुलिस ने एक नाबालिग को भी गिरफ्तार किया था। निचली अदालत ने नाबालिग को बाल सुधार गृह भेजने का आदेश दिया था, जबकि बाकी सभी दोषियों को फांसी की सजा सुनाई थी। देशभर को दहला देने वाली इस वारदात के बाद मुख्य आरोपी ड्राइवर राम सिंह ने तिहाड़ जेल में 11 मार्च 2013 को कथित खुदकुशी कर ली थी, जबकि नाबालिग अपनी तीन साल की सुधारगृह की सजा पूरी कर रिहा हो चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here