नीरव मोदी का 1,300 करोड़ रुपये का एक और फ्रॉड उजागर, PNB महाघोटाला अब बढ़कर 12,700 करोड़ का हुआ

1

देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले की परतें जैसे जैसे खुलती जा रही हैं हर रोज नए-नए चौंकाने वाले तथ्य सामने आ रहे हैं। पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले में एक नया खुलासा हुआ है। घोटाले की जांच के बीच बैंक ने यह आशंका जताई है कि घोटाले की रकम 12,700 करोड़ रूपए तक जा सकती है। दरअसल, PNB ने स्टॉक एक्सचेंज को 1,322 करोड़ रुपये के एक और फ्रॉड की जानकारी दी है, जो नीरव मोदी और मेहुल चोकसी ने किया है। इसके साथ ही अब ये घोटाला पहले के 11,300 करोड़ रुपये से बढ़कर 12,622 करोड़ का हो गया है।Nirav Modi

द टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक पीएनबी की ओर से सोमवार (26 फरवरी) देर रात स्टॉक एक्सचेंज को नीरव मोदी और उनके बिजनस पार्टनर मेहुल चौकसी की ओर से 204 मिलियन डॉलर यानी 1,322 करोड़ रुपए के एक और फ्रॉड के बारे में जानकारी दी गई। इस तरह अब तक नीरव मोदी और उनके मामा मेहुल चौकसी का फ्रॉड 12,600 करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर चुका है।

इससे पहले पीएनबी ने नीरव मोदी पर 11,300 करोड़ रुपए के फ्रॉड का आरोप लगाया था। नीरव मोदी की ओर से इस अतिरिक्त अवैध ट्रांजैक्शन की कीमत पीएनबी के साल 2017 के कुल मुनाफे के बराबर है। 2017 में सार्वजनिक क्षेत्र के दूसरे नंबर के बैंक पीएनबी को 1,320 करोड़ रुपये का लाभ हुआ था। बैंक की ओवरसीज ब्रांचेज को मिले नए लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स के बाद यह नया घोटाला सामने आया है।

पंजाब नेशनल बैंक ने अपनी फाइलिंग में स्टॉक एक्सचेंज को बताया कि, ‘हम यह बताना चाहते हैं अनऑथराइज्ड ट्रांजैक्शंस का आंकड़ा 204 मिलियन डॉलर यानी 12,600 करोड़ रुपये तक हो सकता है।’ एक अन्य फाइलिंग में पीएनबी ने इस बात से साफ इनकार किया कि उसने इस तरह के फ्रॉड में हुए नुकसान की भरपाई सरकार से करने की मांग की है। माना जा रहा है कि कुछ और लेटर्स ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एलओयू) का पता चला है जिसके जरिए पैसे निकाले गए हैं।

 

 

1 COMMENT

  1. देखते जाओ. मोदी सरकार को यु.पी.ए का रिकार्ड को तोडना है ना?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here