गुजरात: पीएम मोदी की आलोचक मल्लिका साराभाई को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित करने से NID का दीक्षांत समारोह टला

0

गुजरात के अहमदाबाद में स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन (एनआइडी) ने 7 फरवरी को निर्धारित अपना सालाना दीक्षांत समारोह अप्रत्याशित परिस्थितियों के चलते टाल दिया है। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुखर आलोचक और प्रख्यात नृत्यांगना मल्लिका साराभाई को मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया गया था।

गुजरात

संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर भी मल्लिका साराभाई ने भाजपा सरकार की आलोचना की थी। एनआईडी के एक अधिकारी ने बताया कि दीक्षांत समारोह की नई तारीख के बारे में शीघ्र ही फैसला किया जाएगा। कार्यक्रम के लिए साराभाई को दिए गए आमंत्रण के बारे में पूछे जाने पर एक अधिकारी ने मंगलवार को पीटीआई (भाषा) से कहा, ‘‘विभिन्न लोगों के सुझाव पर कुछ लोगों को संभावित मुख्य अतिथि चुना गया था और अंतिम निर्णय दी गई तारीखों पर उनकी उपलब्धता के आधार पर लिया गया था।’’

इससे पहले एनआईडी ने स्नातक की उपाधि हासिल कर रहे छात्रों को एक पत्र में कहा, ‘‘एनआईडी, अहमदाबाद की संचालन परिषद की ओर से हमें आपको यह सूचित करते हुए खेद है कि शुक्रवार सात फरवरी 2020 को निर्धारित दीक्षांत समारोह अप्रत्याशित परिस्थितियों के चलते टाल दिया गया है।’’

अधिकारी ने बताया कि यह फैसला संस्थान की संचालन परिषद ने लिया। संचालन परिषद में वाणिज्य एवं उद्योग, मानव संसाधन विकास और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आई टी मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारी तथा उनके सदस्य शामिल हैं।

गौरतलब है कि, प्रख्यात नृत्यांगना मृणालिनी साराभाई और अंतरिक्ष वैज्ञानिक विक्रम साराभाई की बेटी मल्लिका मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री रहने के समय से उनकी मुखर आलोचक हैं। उन्होंने भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी के खिलाफ निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में गांधीनगर सीट पर 2009 का लोकसभा चुनाव लड़ा था, हालांकि वह हार गई थी।

वह नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ प्रदर्शनों में भी शामिल हुई हैं। एनआईडी केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के उद्योग प्रोत्साहन एवं आंतरिक व्यापार विभाग के तहत एक स्वायत्त संस्थान है। इसकी गांधीनगर और बेंगलुरु में शाखाएं हैं।

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here