VIDEO: पाकिस्तानी पैनलिस्ट द्वारा ‘बेवकूफ’ कहे जाने पर मुकेश अंबानी के चैनल के लिए काम करने वाले एंकर ने खोया आपा, मेजर जनरल जीडी बख्शी हुए शो से बाहर

0

देश के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाले हिंदी समाचार चैनल ‘न्यूज 18 इंडिया’ के लिए काम करने वाले एंकर अमीश देवगन को अक्सर अर्नब गोस्वामी का हिंदी वर्जन (संस्करण) बताते हुए लोग सोशल मीडिया पर ट्रोल करते रहते है। अक्सर देवगन पर यूजर्स अर्नब गोस्वामी का नकल करने का आरोप लगाकर मजा लेते रहते हैं। गोस्वामी की तरह, उन्हें भी अक्सर LIVE टीवी शो के दौरान अपने मेहमानों से शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है। ऐसा ही कुछ एक बार फिर से मंगलवार को देखने को मिला।

अमिश देवगन

दरअसल, जम्मू-कश्मीर के मुद्दे को लेकर हर रोज किसी न किसी समाचार चैनल पर डिबेट होती रहती है। कई चैनल अपने डिबेट में पाकिस्तान का पक्ष रखने के लिए वहां के पत्रकार या विश्लेषक को अपने साथ जोड़ते हैं और पाकिस्तान से वो विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए डिबेट में हिस्सा लेते हैं। ऐसी ही एक डिबेट हिंदी समाचार चैनल ‘न्यूज 18 इंडिया’ पर चल रही थी। अमिश देवगन इस कार्यक्रम का एंकरिंग कर रहे थे। उनके साथ इस डिबेट में पाकिस्तानी पैनलिस्ट भी जुड़े हुए थे। डिबेट के दौरान एक पाकिस्तानी पैनलिस्ट अमिश देवगन को ‘बेवकूफ’ कह देते है, जिस पर एंकर भड़क जाते है।

डिबेट के दौरान पाकिस्तानी पैनलिस्ट तारिक पीरज़ादा एंकर अमिश देवगन को ‘बेवकूफ’ (मूर्ख) कह देते है। जिसपर देवगन भड़क जाते है और वह तारिक पीरज़ादा को ‘मूर्ख’ कहकर अपमान करना शुरू कर देते है। पीरज़ादा ने देवगन से कहा, “बेवकूफों की तरह भाषण मत करो अमिश। सवाल करों।” जिसके बाद देवगन अपना आपा खोते हुए पीरज़ादा से कहते है, “बेवकूफ होंगे आप। जबान संभाल कर बात करों तारिक पीरज़ादा” अमिश को जवाब देते हुए पीरज़ादा कहते है, “यह पत्रकारिता है, यहां सवाल किया जाता है।” इसके बाद दोनों के बीच जोरदार बहस होने लगती है।

यह विवाद इतना बढ़ जाता है कि बाद में देवगन शो में हिस्सा ले रहें विवादास्पद मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) जीडी बख्शी को बोलने के लिए कहते है। तारिक पीरज़ादा को संबोधित करते हुए, जीडी बख्शी ने उन्हें शो में अपने बयानों के लिए गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा, “पीरज़ादा, आपके ये शब्द एक दिन आपके और मेरे देश के बीच युद्ध का कारण बनेंगे… आपके यह शब्द आपके और आपके देश के लिए एक दिन महंगे साबित होंगे।” इसके बाद  बख्शी शो से बाहर चले जाते है।

गौरतलब है कि, अभी कुछ दिनों पहले ही अमिश देवगन को अर्नब गोस्वामी का हिंदी वर्जन (संस्करण) बताते हुए लोग सोशल मीडिया पर ट्रोल करने लगे। देवगन पर आरोप लगता रहा है कि उन्होंने पत्रकारों और पार्टी प्रवक्ताओं के बीच का फर्क मिटा दिया है, जिस वजह से देवगन को प्यार से ‘हिंदी का अर्नब गोस्वामी’ भी कहा जाता है। दरअसल, अक्सर देवगन पर यूजर्स अर्नब गोस्वामी का नकल करने का आरोप लगाकर मजा लेते रहते हैं।

आलोचकों के मुताबिक, अर्नब और अमिश में सिर्फ भाषा का फर्क है। अर्नब अपने डिबेट के दौरान भाजपा के समर्थन में जिस कुतर्क को अंग्रेजी में चिल्लाते हैं, अमिश उसी काम को हिंदी में करते हैं। अर्नब गोस्वामी को उनके आलोचक भाजपा समर्थक करार देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here