उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में बच्चों को लेकर हुए विवाद में पड़ोसियों ने महिला को पीट-पीटकर मार डाला

0

कोरोना लॉकडाउन के बीच भी उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए है कि राज्य सरकार और प्रशासन दोनों इनके आगे बेबस नजर आ रहे हैं। राज्य में अपराधी इस कदर बेखौफ हो चुके हैं कि वो कभी भी घटना को अंजाम दे देते है, जिसका ताजा मामला एक बार फिर से देखने को मिला है।

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले के जयंतीपुर क्षेत्र में बच्चों को लेकर हुए विवाद में एक महिला को उसके पड़ोसियों ने पीट-पीटकर मार डाला। मुरादाबाद के सहायक पुलिस अधीक्षक (एएसपी) दीपक भुकर ने कहा कि बच्चों के बीच झगड़ा होने के बाद मंगलवार को पड़ोसियों के दो समूहों के बीच झड़प हुई, जिसमें एक महिला को पीट-पीटकर मार दिया गया। पुलिस ने कहा कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है, रिपोर्ट आने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

स्थानिय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला लाल मस्जिद निवासी फजर्नीचर कारीगर शखावत मझोला के जंयतीपुर में किराए के मकान में रहता है। परिवार में पत्नी नूरजहां व समीर, धनी और समरीन समेत चार बच्चे हैं। उसके घर के सामने ही भोजपुर थाना क्षेत्र के लतीफ का परिवार भी किराये पर रहता है। मंगलवार रात चप्पल चोरी को लेकर शखावत व लतीफ के बच्चों में टकराव हो गया, लतीफ के बच्चों ने शखावत के बेटे को पीट दिया।

चीख-पुकार सुनकर शखावत की पत्नी नूरजहां (30) घर से बाहर आ गई, उसने अपने व लतीफ के बच्चों को फटकार कर अलग कर दिया। नूरजहां ने इसकी शिकायत लतीफ की पत्नी फिरोज से की। आरोप है कि इस पर लतीफ उसकी पत्नी फिरोज व बच्चों ने नूरजहां को लाठी-डंडों से बुरी तरह पीटना प्रारम्भ कर दिया। हाथापाई में नूरजहां बेहोश हो गई तो नाले पास धक्का देकर आरोपी भाग गए। आनन-फानन में नूरजहां को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां देखते ही डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here