NDTV इंडिया बैन, केजरीवाल ने कहा दुसरे चैनल्स का भी यही हाल होगा, प्रशांत भूषण ने अभिव्यक्ति की आज़ादी पर हमला बताया

1

प्रसारण मंत्रालय की एक इंटर मिनीसट्रल समिति ने सिफारिश की है कि प्रमुख हिंदी समाचार चैनल NDTV इंडिया के प्रसारण को एक दिन के लिए ऑफ एयर किया जाए इसके पीछे कारण बताया जा रहा है पठानकोट आतंकी हमले में चैनल द्वारा कवर की गई स्टोरी को “रणनीतिक रूप से संवेदनशील” माना है।

मंत्रालय अब चैनल एनडीटीवी इंडिया से 9 नवंबर को एक दिन के लिए ऑफ एयर करने को कह सकता है।

NDTV इंडिया

चैनल द्वारा पठानकोट आतंकी हमले की कवरेज में हमले की महत्वपूर्ण जानकारी से आतंकवादी इन जानकारियों से फायदा उठा सकते है जो ना केवल केवल राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बड़े पैमाने पर नुकसान का कारण बन सकता है। बल्कि नागरिक और रक्षा कर्मियों के जीवन के लिए भी खतरा हो सकता है।

Also Read:  बिहार में शराबबंदी का नया कानून आज से लागू

जनवरी में जब पठानकोट आतंकी हमले का ऑपरेशन हुआ था तो चैनल की कवरेज में कुछ महत्वपूर्ण जानकारीयां जैसे ऐयरबेस में गोला बारूद का भंडार मिग, लड़ाकू विमानों, रॉकेट लांचर, मोर्टार, हेलीकाप्टरों, ईंधन टैंक आदि कि जानकारियां उसमें शामिल थी।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि के सेना के ऑपरेशन के बारे में जरूरी जानकारिया जुटा कर चैनल को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था।

अपने जवाब में चैनल ने कहा है कि यह “विस्तारपूर्वक व्याख्या” का एक मामला है और सबसे ज्यादा इस बारे में जानकारिंया पहले से ही प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, सोशल मीडिया में सार्वजनिक थी।

Also Read:  India, US to cooperate against JeM, LeT, ask Pak to rein in

इस बारे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा- सुन लो सारे चैनल वाले अगर मोदी जी की आरती नहीं उतारी तो आपका चैनल भी बंद कर देंगे

केजरीवाल के पूर्व सहयोगी और सुप्रीम कोर्ट के मशहूर वकील प्रशांत भूषण ने इसे अभिव्यक्ति की आज़ादी पर खतरनाक हमला बताया।

Also Read:  UP विधानसभा चुनाव: रिफत जावेद को लखनऊ के उत्साही मतदाताओं ने बताया कि वे 'भाजपा' के लिए मतदान करेंगे

उन्होंने कहा, “सरकार ने पठानकोट हमले की कवरेज केलिए NDTV को बंद करने का फैसला किया है और दूसरी ओर यही सरकार सर्जिकल स्ट्राइक्स को भुनाती है। ये मीडिया और अवहीव्यक्ति की आज़ादी पर एक खतरनाक हमला है।

“कल ही मोदी गोयनका अवार्ड्स देते समय कहा था कि आपातकाल जैसा दौर दुबारा नहीं लौटना चाहिए और आज उन्होंने NDTV को बंद करने का हुक्म दे दिया। पाखंडी ! ”

 

1 COMMENT

  1. It should be done before. Yes we can see todays media is giving every secret information about defence . If u leak the security information they should be banned or put behind the jail. simple No one allowed to leak a tiny information about our security.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here