NDTV के सूत्रों ने चैनल को स्पाइसजेट के टेकओवर करने की खबरों की पुष्टि की

0

मीडिया कंपनी एनडीटीवी (NDTV) का मालिकाना हक बहुत जल्द ही स्पाइसजेट के चेयरमैन और सह-संस्थापक अजय सिंह के पास जाने वाला है। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक एनडीटीवी समूह के 40 फीसदी शेयर अब स्पाइसजेट के मालिक अजय सिंह के पास चले जाएंगे। इसके बाद एनडीटीवी के संस्‍थापक प्रणय रॉय और राधिका रॉय के पास कंपनी के 20 फीसदी शेयर बचेंगे।इस हिसाब से अजय सिंह के पास एनडीटीवी के सबसे ज्‍यादा शेयर होंगे और चैनल का मालिकाना हक भी उन्हीं के हाथ में होगा। अखबार ने इस बारे में जब एनडीटीवी के सूत्रों से जानकारी मांगी गई तो उन्‍होंने इस सौदे की पुष्टि कर दी है। एनडीटीवी ने बताया है कि चैनल के सौदे को अंतिम रूप दे दिया गया है। इस सौदे के बाद चैनल के संपादकीय और अन्य अधिकार अजय सिंह के पास चले जाएंगे।

इस बारे में NDTV के सूत्रों ने ‘जनता का रिपोर्टर’ से भी बातचीत में इस सौदे की पुष्टि की है। वहीं, अंग्रेजी अखबार ‘द हिंदू’ के मुताबिक चैनल के शीर्ष अधिकारी ने उससे बातचीत में एनडीटीवी को स्पाइसजेट के टेकओवर करने की खबरों को अफवाह बताया है। इसके अलावा मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जब स्पाइसजेट से एनडीटीवी से हुए सौदे के बारे में सवाल किया गया तो कंपनी के अधिकारियों ने इसे पूरी तरह बेबुनियाद और गलत खबर बताया है।

खबरों की मानें तो कुल सौदा करीब 600 करोड़ रुपये में हुआ है। जिसमें अजय सिंह एनडीटीवी का 400 करोड़ रुपये का कर्ज भी वहन करेंगे। इस सौदे में करीब 100 करोड़ तक नकद रॉय दंपति को मिल सकता है। आपको बता दें कि एनडीटीवी के संस्‍थापक और आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड के प्रमोटर प्रणय रॉय और राधिका रॉय वित्तीय लेन-देन के एक मामले में सीबीआई जांच का सामना कर रहे हैं।

अजय सिंह का BJP कनेक्शन 

बता दें कि अजय सिंह का भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से पुराना नाता रहा है। वह साल 2014 के चुनाव प्रचार की कोर टीम में शामिल थे। साथ ही नरेंद्र मोदी के चुनाव प्रचार के दौरान “अबकी बार मोदी सरकार” नारे का श्रेय भी अजय सिंह को दिया जाता है। इसके अलावा सिंह पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के दौरान प्रमोद महाजन के ओएसडी रह चुके हैं। उस दौरान उन्होंने डीडी स्पोर्ट्स और डीडी न्यूज को लॉन्च करने में प्रमुख भूमिका निभायी थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here