महाराष्ट्र में राजनीतिक उलटफेर के बीच NCP का एक विधायक ‘लापता’, पुलिस में शिकायत दर्ज

0

महाराष्ट्र में राजनीतिक उलटफेर के बीच शरद पवार के नेतृत्व वाली एनसीपी ने अपने एक विधायक के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई है। शाहपुर के एनसीपी विधायक दौलत दरोदा शनिवार सुबह दक्षिण मुंबई में राजभवन पहुंचने के बाद लापता हो गए।

महाराष्ट्र
फाइल फोटो: सोशल मीडिया

राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह में देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद की और अजित पवार ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, एक अधिकारी ने बताया कि दरोदा अपने बेटे करण के साथ शुक्रवार रात ठाणे में अपने निर्वाचन क्षेत्र से निकले थे और मुंबई पहुंचने के बाद से उनसे संपर्क नहीं हो पाया है।

पूर्व विधायक पांडुरंग बरोड़ा शाहपुर थाना पहुंचे और दरोदा के लापता होने के बारे में शिकायत दर्ज कराई। बहरहाल, दरोदा के बेटे करण ने कहा कि उनके पिता शनिवार सुबह से ही उनसे संपर्क में नहीं है। करण ने कहा कि उनके पिता एनसीपी संस्थापक शरद पवार के साथ हैं।

गौरतलब है कि, तमाम अटकलों के बीच महाराष्ट्र में अजित पवार ने भाजपा के साथ मिलकर सरकार बना ली है। शनिवार सुबह भाजपा नेता देवेंद्र फड़णवीस ने मुख्यमंत्री पद की ली, जबकि NCP नेता अजीत पवार ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। यह शपथ ग्रहण ऐसे समय में हुआ है जब एक दिन पहले शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस के बीच मुख्यमंत्री पद के लिए शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के नाम पर सहमति बनी थी।

हालांकि, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने कहा कि सरकार बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी को समर्थन देने का फैसला उनके भतीजे का निजी फैसला है न कि पार्टी का। शिवसेना नेता संजय राउत ने भाजपा के साथ हाथ मिलाने का फैसला लेकर अजित पवार पर शिवसेना की पीठ में छुरा घोंपने का आरोप लगाया।

बता दें कि, महाराष्ट्र विधानसभा की 288 सीटों के लिए 21 अक्टूबर को चुनाव हुए थे और 24 अक्टूबर को परिणाम आए थे। चुनाव में भाजपा को 105, शिवसेना को 56, एनसीपी को 54 और कांग्रेस को 44 सीटें मिली थीं। किसी भी पार्टी या गठबंधन के सरकार बनाने का दावा पेश नहीं करने के बाद 12 नवंबर को राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here