सुशांत सिंह राजपूत पर किए गए फर्जी ट्वीट को लेकर NBSA ने ‘आजतक’ पर लगाया 1 लाख रुपये का जुर्माना, इंडिया टुडे के चैनल के साथ-साथ ज़ी न्यूज़, इंडिया टीवी, न्यूज़ 24 को सार्वजनिक रूप से माफी मांगने को कहा गया

0

नेशनल ब्रॉडकास्टिंग स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी (एनबीएसए) ने हिंदी समाचार चैंनल ‘आजतक’ पर 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। इंडिया टुडे के स्वामित्व वाले आजतक चैनल पर दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े फर्जी ट्वीट प्रसारित करने के जुर्म में एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। एनबीएसए ने आजतक को 27 अक्टूबर को सुबह 8 बजे हिंदी में सार्वजनिक रूप से माफी जारी करने को भी कहा है। इसके साथ ही एनबीएसए ने हिंदी समाचार चैनल ज़ी न्यूज़, इंडिया टीवी और न्यूज़ 24 को भी उल्लंघनों के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगने का निर्देश दिया हैं।

सुशांत सिंह राजपूत

NBSA ने ‘आजतक’ चैनल को निर्देश दिया कि वो टेक्स्ट के माध्यम से माफीनामे का प्रसारण करे। NBSA ने कहा है कि माफीनामे का ये टेक्स्ट बड़े अक्षरों में होने चाहिए और साथ ही बैकग्राउंड में वॉयस ओवर के द्वारा धीरे-धीरे इस माफीनामे को पढ़ा जाना चाहिए। इसके अलावा उसे 1 लाख रुपए का जुर्माना भी भरना पड़ेगा।

आजतक को माफ़ी मांगते हुए लाइव प्रसारण के दौरान यह पढ़ना पड़ेगा

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या से सम्बंधित घटनाओं पर रिपोर्टिंग के दौरान ‘आज तक’ चैनल ने कुछ ट्वीट्स दिखाए थे और उन ट्वीट्स को गलत तरीके से सुशांत सिंह राजपूत की अंतिम ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट्स करार दिया था। हमने उन्हें वास्तविक ट्वीट्स बताया था। ऐसा कर के हमने एक्यूरेसी से सम्बंधित ‘स्पेसिफिक गाइडलाइन्स कवरिंग रिपोर्टेज’ के अनुच्छेद-1 का उल्लंघन किया है। इस अनुच्छेद में कहा गया है कि सूचनाओं की एक से ज्यादा सोर्सेज से पुष्टि की जानी चाहिए। अगर समाचार एजेंसियों से कोई सूचना मिल रही है तो इसका जिक्र किया जाना चाहिए और संभव हो तो उसकी पुष्टि भी की जानी चाहिए। आरोपों को एक्यूरेसी के साथ पेश किया जाना चाहिए और फैक्ट्स में हुई गलतियों को जल्द से जल्द सुधारा जाना चाहिए।

इसके अलावा इंडिया टीव, ज़ी न्यूज़ और न्यूज़ 24 को भी सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रिपोर्टिंग करते समय पत्रकारिता के सिद्धांतों का उल्लंघन के लिए माफ़ी मांगने को कहा गया है। एनबीएसए के अनुसार, ज़ी न्यूज़ और रजत शर्मा के इंडिया टीवी को 27 अक्टूबर की सुबह 9 बजे माफ़ी मांगने के लिए कहा है। वहीं, न्यूज़ 24 को 29 अक्टूबर की सुबह 9 बजे अपना माफीनामा पेश करना होगा।

गौरतलब है कि, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की फॉरेंसिक टीम ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौपीं अपनी रिपोर्ट में कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत आत्महत्या करने की वजह से हुई है। यह हत्या नहीं है। एम्स के मेडिकल बोर्ड ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की हत्या को खारिज करते हुए इसे ‘फंदे से लटककर खुदकुशी’ करने का मामला बताया था।

सुशांत का शव 14 जून को उसके मुंबई में बांद्रा स्थित उनके फ्लैट से बरामद हुआ था। अभिनेता के मौत की ख़बर ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। उनकी मौत की खबर सुनकर हर कोई हैरान है, किसी को अंदाजा नहीं था कि फिल्म जगत का एक ऐसा कलाकार जिसने इतने थोड़े से वक्त में इतना मुकाम हासिल किया है वो कुछ ऐसा कदम उठा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here