मुंबई से मुजफ्फरनगर में अपने गांव पहुंचे अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी, परिवार के साथ 14 दिन के लिए हुए होम क्वारंटाइन

0

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी और उनका परिवार लॉकडाउन के बीच मुंबई से उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के बुढ़ाना गांव में स्थित अपने घर पर पहुंचे। पुलिस के मुताबिक मुंबई से उत्तर प्रदेश तक का सफर करने के कारण अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी और उनके परिवार को 14 दिन के क्वारंटीन किया गया है।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी
फाइल फोटो

समाचार एजेंसी पीटीआई ने ट्वीट के अनुसार, “बॉलीवुड एक्टर नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी और उनके परिवार के सदस्यों को ईद के लिए मुंबई से उत्तर प्रदेश के बुढ़ाना शहर पहुंचने के बाद 14 दिन के घर में क्वारेंटाइन में रखा गया है।”

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, अभिनेता और उनके परिवार के सदस्यों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई। सभी रिपोर्ट नेगेटिव आई हैं। महाराष्ट्र सरकार से अनुमति पत्र लेने के बाद नवाजुद्दीन 15 मई को अपने घर पहुंचे हैं। यहां उन्हें अपने परिवार संग क्वारंटीन में रहने को कहा गया है।

मुंबई से बुढ़ाना नवाजुद्दीन अपनी खुद की गाड़ी से आए और इस सफर में उनके साथ उनके मां, भाभी और भाई भी मौजूद रहे। अभिनेता ने पत्रकारों को बताया कि अपने इस सफर के दौरान वह सड़क पर 25 जगह मेडिकल स्क्रीनिंग में से होकर गुजरे हैं।

बुढ़ाना पुलिस सर्कल के स्टेशन हाउस अफसर (एसएसओ) कुशलपाल सिंह ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों ने अभिनेता के घर का दौरा किया और उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रहने को कहा।

View this post on Instagram

" BEAT ME "

A post shared by Nawazuddin Siddiqui (@nawazuddin._siddiqui) on

बताया जा रहा है कि, ये कदम सिर्फ एहतियात के तौर पर उठाया गया है। बता दें, लॉकडाउन की वजह से देशभर में शूटिंग बंद है। शूटिंग बंद होने की वजह से फिल्म-टीवी इंडस्ट्री का काम ठप पड़ा है, जिस कारण सभी सितारे अपने घरों में कैद हैं। ऐसे में नवाजुद्दीन ने फैसला किया कि वे मुंबई में रहने की बजाय अपने घर लौट जाएं।

बता दें कि, 24 मार्च आधी रात से पूरे देश में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। जिसे पहले 3 मई और बाद में 17 मई तक बढ़ाया गया था। अब इस देशव्यापी लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ा दिया गया है। इस दौरान कुछ गाइडलाइन्स जारी की गई हैं। साथ ही लॉकडाउन में थोड़ी ढीलाई भी दी गई है, लेकिन सार्वजनिक स्थानों को अभी भी बंद रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here