आज लाहौर पहुंचते ही नवाज शरीफ और बेटी मरियम को गिरफ्तार कर जेल भेजने की तैयारी, पूर्व पीएम बोले- कोई गम नहीं

0

भ्रष्टाचार के मामले में प्रधानमंत्री पद की कुर्सी गंवाने और 10 साल की सजा पाने वाले नवाज शरीफ शुक्रवार (13 जुलाई) को पाकिस्तान लौट रहे हैं। खबरों के मुताबिक, नवाज और उनकी बेटी मरियम को लाहौर एयरपोर्ट पहुंचते ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। नवाज शरीफ अपनी बीमार पत्नी की तीमारदारी के लिए लंदन में थे। अब लंदन से पाकिस्तान लौटते हुए नवाज ने विमान से ही अपने देश के लिए एक वीडियो जारी कर लोगों से समर्थन मांगा है।

Aamir Qureshi/Agence France-Presse — Getty Images

खबर है कि वह अपनी बेटी के साथ अबू धाबी पहुंच गए हैं। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान के राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो की एक टीम शरीफ के प्लेन में ही मौजूद रहेगी और ऐसे में लाहौर में लैंड करने से पहले ही उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है। जिसके बाद लाहौर एयरपोर्ट से सीधे उन्हें जेल ले जाया जाएगा। नवाज और मरियम की गिरफ्तारी के लिए पाकिस्तान में व्यापक तैयारियां की गई हैं। लाहौर को एक तरह से सील कर दिया गया है।

Also Read:  Pak cleric among 5 given death for burning Christian couple

नवाज की पाकिस्तान वापसी कड़ी सुरक्षा और पीएमएल-एन कार्यकर्ताओं के खिलाफ बड़े पैमाने पर की गई कार्रवाई के बीच होगी। डॉन समाचारपत्र के मुताबिक शरीफ और मरियम एतिहाद एयरवेज के विमान ईवाई 243 में अबु धाबी से लाहौर के अल्लामा इकबाल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर स्थानीय समयानुसार शाम सवा छह बजे उतरेंगे।

Also Read:  Pakistan seeks to shift Obama-Sharif talks focus to India

रिपोर्ट के मुताबिक उन्हें लाहौर हवाईअड्डा पर पहुंचते ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा जहां से उन्हें हेलीकॉप्टर में इस्लामाबाद ले जाया जाएगा ताकि उन्हें अडियाला जेल ले जाया जा सके। मरियम ने शरीफ का एक वीडियो संदेश ट्वीट किया है जिस में पूर्व प्रधानमंत्री ने अपने प्रशंसकों से उनके साथ खड़े रहने और “देश की किस्मत बदलने” की अपील की।

मरियम नवाज ने अपने पिता के संदेश वाला वीडियो ट्वीट किया है। इस वीडियो में नवाज कह रहे हैं, ‘जो मेरे बस में है और जो मेरे बस में था, वह मैंने कर दिया है। मुझे मालूम है कि लाहौर पहुंचते ही मुझे जेलखाने भेज दिया जाएगा, लेकिन पाकिस्तानी कौम को मैं बताना चाहता हूं कि यह सब मैं आप के लिए कर रहा हूं। यह कुर्बानी मैं आपकी नस्ल के लिए दे रहा हूं। लिहाजा मेरा भरपूर साथ दें।’

बता दें कि एवनफील्ड संपत्ति मामले में जवाबदेही अदालत ने छह जुलाई को शरीफ को 10 साल और मरियम को सात साल कैद की सजा सुनाई थी। शहर में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए करीब 10,000 पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गई है।

Also Read:  भारत के पूर्व NSA शिवशंकर मेनन ने कहा- भारत को पाकिस्तान-चीन से नहीं, अंदर से है खतरा

 

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here