ज्योतिरादित्य सिंधिया ने टाइम्स नाउ की संपादक नविका कुमार को पढ़ाया पत्रकारिता का पाठ

0

अभी हाल ही में अंग्रेजी समाचार चैनल टाइम्स नाउ ने दावा किया था कि विवादास्पद भारतीय इस्लामी उपदेशक जाकिर नाईक को मलेशिया की सरकार भारत भेज रही है। चैनल ने तो यह भी दावा किया था कि जाकिर नाईक को मलेशिया में गिरफ्तार कर लिया गया है और उसे 4 जुलाई की रात को निर्वासित किया जा रहा है। हालांकि बाद में यह खबर फर्जी निकली और टाइम्स नाउ सहित तमाम समाचार चैनलों और न्यूज पेपरों को ट्रोल होना पड़ा था।

इस बीच टाइम्स नाउ और उसके संपादक को सोशल मीडिया पर एक बार फिर ट्रोल किया जा रहा है। दरअसल टाइम्स नाउ की मैनेजिंग एडिटर नविका कुमार ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के इंटरव्यू के दौरान एक ऐसी टिप्पणी का उदाहरण दिया जो फर्जी था। जिसके बाद उन्हें लाइव टीवी पर शर्मिंदा होना पड़ा। साथ ही फर्जी टिप्पणी को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने नविका को पत्रकारिता का पाठ भी पढ़ाया।

इंटरव्यू के दौरान मध्यप्रदेश से सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया से नविका कुमार ने पूछा कि क्या वह अपने पार्टी के सहयोगी नेता सलमान खुर्शीद से सहमत हैं, जिन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की नेतृत्व क्षमताओं पर सवाल उठाया था। कुमार ने पूछा कि कुछ हफ्ते पहले, सलमान खुर्शीद ने मेरे कार्यक्रम में कहा था कि जब महागठबंधन या नेतृत्व के मुद्दे की बात आती है, तो सोनिया गांधी को ही अहम भूमिका निभानी होगी, क्योंकि राहुल गांधी का अभी वह कद नहीं है और उनके पास वह जीत नहीं है जिससे वह विपक्षी दलों को एक साथ ला सके।

हालांकि कुमार के आगे बढ़ने से पहले ही सिंधिया ने उन्हें बीच में ही रोकते हुए पूछा, “क्या यह सलमान खुर्शीद का बयान है या आपका अनुमान है?” कुमार ने कहा, “यह उनका ही बयान है। क्या मैं पढ़ सकती हूं? “सिंधिया ने पूछा,”क्या उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के पास क्षमता नहीं है…” इसके बाद शर्मिंदा होकर टाइम्स नाउ की संपादक ने स्वीकार किया कि खुर्शीद ने ये टिप्पणी नहीं की थी।

नविका द्वारा अपनी गलती स्वीकार किए जाने के बाद सिंधिया ने उन्हें लाइव टीवी पर ही पत्रकारिता का पाठ पढ़ाते हुए कई नसीहत दिए। उन्होंने कहा कि जब आप किसी के बयान का उदाहरण दे रही हैं तो आपको इसे बेहतर तरीके से जानना चाहिए। यह इंटरव्यू काफी वायरल हो रहा है। इसमें इशारों इशारों में सिंधिया ने नविका पर एक पार्टी विशेष के पक्ष में सवाल पूछने का भी आरोप लगाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here