नवीन पटनायक ने लगातार पांचवीं बार ली ओडिशा के सीएम पद की शपथ

0

बीजू जनता दल के प्रमुख नवीन पटनायक ने भुवनेश्वर में एक सार्वजनिक समारोह के दौरान मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। बुधवार सुबह राज्यपाल प्रोफेसर गणेशी लाल ने नवीन पटनायक को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। बता दें कि, उन्होंने लगातार पांचवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है।

नवीन पटनायक
फोटो: ANI

बीजद के नवनिर्वाचित 20 विधायकों ने भी मंत्री पद की शपथ ली जिनमें 11 कैबिनेट रैंक के मंत्री हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नवीट पटनायक से बात की और उन्हें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने की बधाई दी। राष्ट्रपति सचिवालय ने ट्वीट किया, “राष्ट्रपति ने राज्य के विकास के लिए उन्हें (पटनायक)और उनकी समूची टीम को शुभकामनाएं दीं।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पटनायक के शपथ लेने के कुछ ही देर बाद उन्हें बधाई दी। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘नवीन पटनायक जी को ओडिशा के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर बधाई । लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए उन्हें और उनकी टीम को शुभकामनाएं । ओडिशा की प्रगति के लिए मैं केंद्र की तरफ से पूर्ण सहयोग का आश्वासन देता हूं।’’

शपथग्रहण के तुरंद बाद पटनायक ने ट्वीट किया, “पिछले 19 वर्षों को याद करना मेरे लिए पुरानी यादें ताजा करना और निजी सफर जैसा है। आज पांचवें कार्यकाल के लिए पद की शपथ लेते हुए मैं उस जिम्मेदारी को सहर्ष स्वीकार करता हूं जो उस विश्वास के साथ है जो मेरे साढ़े चार करोड़ परिवारजनों ने एक बार फिर मुझमें दिखाया है।”

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं निवर्तमान केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि वह आशान्वित हैं कि राज्य सरकार “ओडिया लोगों के उत्थान के लिए केंद्र को सक्रियता से समर्थन देगी।”

हाल ही में लोकसभा चुनाव के साथ ही ओडिशा में संपन्न विधानसभा चुनाव में बीजू जनता दल ने 147 सदस्यीय विधानसभा में 112 सीट जीती हैं। बीजद 2000 से ओडिशा में सत्ता में है। यह पहली बार है जब नवीन पटनायक ने एक खुले सार्वजनिक मैदान में शपथ ली। वर्ष 2000, 2004, 2009 और 2014 में उन्होंने राजभवन में शपथ ली थी।

शपथग्रहण समारोह में नवीन पटनायक के बड़े भाई एवं उद्योगपति प्रेम पटनायक, बहन एवं जानी मानी लेखिका गीता मेहता और उद्योग जगत से लेकर विभिन्न क्षेत्रों की प्रख्यात हस्तियां मौजूद थीं। बीजद के समर्थकों और जमीन से जुड़े कार्यकर्ताओं ने भी समारोह में हिस्सा लिया।

कैबिनेट मंत्रियों के तौर पर जिन 11 विधायकों ने शपथ ली, उनमें प्रफुल्ल मलिक, बिक्रम केशरी आरुख, निरंजन पुजारी, तुकुनी साहू, रानेंद्र प्रताप स्वेन, अरुण साहू, सुदाम मार्न्डी, प्रताप जेना, पद्मानाभ बेहरा, सुशांत सिंह और नबकिशोर दास शामिल हैं।

राज्य के नौ मंत्रियों में पद्मिनी दियान, अशोक चंद्र पांडा, समीर रंजन दास, ज्योति प्रकाश पाणिग्रही, दिब्य शंकर मिश्रा, प्रेमानंद नायक, रघुनंदन दास, तुषारकांति बेहरा और जगन्नाथ सराका शामिल हैं। नया मंत्रालय जिसमें दो महिलाएं भी शामिल हैं, अनुभवी एवं नये चेहरों का मिश्रण है।

राज्य विधानसभा चुनाव में बीजद को जहां 112 सीटों पर जीत मिली, वहीं भाजपा के हिस्से 23 और कांग्रेस के हिस्से में नौ सीट आई हैं। एक-एक सीट निर्दलीय एवं माकपा को भी मिली। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here